पाकिस्‍तान के बड़बोले मंत्री शेख रशीद ने कहा, भारत के एजेंट हैं नवाज शरीफ

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा की आलोचना करने के बाद अब पाकिस्‍तान में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भारत और पीएम मोदी का नाम लेकर इमरान की पार्टी ने घेरना शुरू कर दिया है।
इमरान खान के बड़बोले रेलमंत्री शेख रशीद ने कहा है क‍ि नवाज शरीफ भारत के एजेंट हैं और नरेंद्र मोदी को देश के बाहर जाकर फोन करते हैं।
शेख रशीद ने नवाज शरीफ पर यह आरोप ऐसे समय पर लगाया है जब विपक्षी दलों के पाकिस्‍तानी सेना प्रमुख के साथ मुलाकात का मामला गरम होता जा रहा है। शेख रशीद ने कहा कि नवाज शरीफ के सेना विरोधी भाषण की वजह से उसका भारतीय मीडिया में जोरदार कवरेज किया गया। उधर, प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी कहा है कि नवाज शरीफ ने देश की सेना की आलोचना करके भारत का पक्ष लिया है।
‘नवाज शरीफ ने देश को बांटने का प्रयास किया’
रशीद ने इमरान से एक कदम आगे बढ़ते हुए उन्‍हें भारत का एजेंट करार दे द‍िया। रशीद ने कहा कि नवाज शरीफ ने देश को बांटने का प्रयास किया है। उन्‍होंने कहा कि देश के बाहर जाकर नवाज शरीफ भारत के प्रधानमंत्री से बात करते हैं। उन्‍हें इसकी पूरी जानकारी देश के सामने रखनी चाहिए। रशीद ने कहा कि नवाज शरीफ को यह बताना चाहिए कि उन्‍होंने कितनी ओसामा बिन लादेन से मुलाकात की और उन्‍हें कतर से कितना दान मिला था।
बता दें कि गत वर्ष शेख रशीद पीएम मोदी का नाम लेते ही बिजली के जोरदार झटके का शिकार हो गए थे। बिजली झटका लगते ही शेख रशीद डर गए और अपना भाषण रोक दिया। बाद में उन्‍होंने स्थिति को संभालते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी उनके जलसे को नाकाम नहीं कर सकते हैं। रशीद ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने कश्‍मीर में अपनी सबसे बड़ी गलती की। भारत ने दो बड़ी गलती की है। पहला 5 परमाणु धमाके किए और हमने उसके जवाब में 6 धमाके कर दिए। कश्‍मीर में भारत ने दूसरी सबसे बड़ी गलती की है। रशीद भाषण दे रहे थे कि उसी समय उनको करंट लग गया। करंट लगने से डर गए लेकिन बाद में किसी तरह खुद को संभाला। उन्‍होंने कहा, ‘बहुत तगड़ा करंट लगा।’
शरीफ के घर के बाहर चोर-चोर के नारे
ब्रिटेन में पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के घर के बाहर चोर-चोर के नारे लगे हैं। बताया जा रहा है क‍ि 20 से अधिक युवक मास्‍क लगाकर नवाज शरीफ के घर के बाहर पहुंचे और नारेबाजी की।
डॉन न्यूज के पास उपलब्ध फुटेज के अनुसार रविवार की शाम को शरीफ के निवास के बाहर 20 से अधिक युवक चेहरे पर मास्क और हुड लगाकर जमा हुए।
इन प्रदर्शनकारियों ने ‘गो नवाज गो’ के नारे लगाए। उनमें से कई ने अपने हाथ में तख्तियां भी रखी हुईं थीं, जिनमें लिखा है, ‘हम पाक सेना के साथ हैं’ और ‘नवाज शरीफ चोर है’। शरीफ के पारिवारिक सूत्रों ने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने पंजाबी भाषा में गालियां दीं और नारे लगाए। शाम को 4 बजे शहर की पुलिस को इस घटना के बारे में सूचना दी गई लेकिन जब तक पुलिस पहुंची भीड़ तितर-बितर हो चुकी थी, हालांकि वे तख्तियों को वहीं छोड़ गए थे।
सूत्रों ने बताया कि मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। डॉन न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक रविवार को यह विरोध शरीफ के उस वीडियो संबोधन के बाद हुआ है जिसमें पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) सुप्रीमो ने राजनीतिक मामलों में सेना के कथित हस्तक्षेप की आलोचना की थी। पद से हटाए गए प्रधानमंत्री शरीफ नवंबर 2019 से चिकित्सा आधार पर मिली जमानत पर ब्रिटेन में हैं।
इसके लिए उन्होंने पाकिस्तान की तहरीक-ए-इंसाफ सरकार से भी अनुमति ली थी। इस्लामाबाद उच्च न्यायालय (आईएचसी) ने इसी महीने की शुरुआत में अल-अजीजिया और एवेनफील्ड संपत्तियों के मामले में शरीफ की उस अपील को खारिज कर दिया था, जिसमें उन्होंने सुनवाई के दौरान व्यक्तिगत उपस्थिति से छूट की मांग की थी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *