पाकिस्तान: ईशनिंदा के मामले में एक मुस्लिम महिला को मौत की सज़ा

पाकिस्तान के रावलपिंडी में एक सेशन कोर्ट ने बुधवार को ईशनिंदा के मामले में एक 26 वर्षीय मुस्लिम महिला को मौत की सज़ा सुनाई. इसके साथ ही महिला को 20 साल जेल की सज़ा और इसके साथ-साथ डेढ़ लाख रुपये पाकिस्तानी रुपये का जुर्माना भी लगाया.
कोर्ट ने फ़ैसला सुनाते हुए कहा कि यह साबित हुआ है कि अनीक़ा अतीक़ नामक दोषी महिला ने पैग़बर मोहम्मद और उनकी पत्नी आएशा को लेकर व्हाट्सऐप पर ऐसे संदेश भेजे जो आपत्तिजनक थे.
कोर्ट ने कहा कि अनीक़ा अतीक़ अपनी बेगुनाही में सबूत पेश नहीं कर पाईं इसलिए उन्हें फांसी की सज़ा दी जाती है.
पुलिस स्टेशन एफ़आईए (साइबर क्राइम सर्कल) रावलपिंडी ने 13 मई 2020 को हसनात फ़ारूक़ नामक शख़्स की शिकायत पर एक एफ़आईआर दर्ज की थी जिसमें उन्होंने अनीक़ा के ऊपर ईशनिंदा का आरोप लगाया था.
अनीक़ा के वकील ने सुनवाई के दौरान कहा था कि घटना के समय अभियुक्त की मानसिक हालत ठीक नहीं थी. इसके बाद मैजिस्ट्रेट ने मानसिक जांच के आदेश दिए थे जो कि अभी तक लंबित है.
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *