भारत गौरव अवार्ड के आयोजन में प्रतिभाएं सम्मानित

नई दिल्ली। भारत गौरव अवार्ड फाउंडेशन द्वारा भारत गौरव पुरस्कार का तीसरा संस्करण नई दिल्ली स्थित होटल शंगरी-ला-इरोज़ में आयोजित किया गया। समारोह में बतौर मुख्य अतिथि मनसुख मांडविया, केन्द्रीय राज्य मंत्री जहाजरानी, बंदरगाह व जलमार्ग मंत्रालय (स्वतंत्र प्रभार) मौजूद रहे व कार्यक्रम को सार्थकता प्रदान की। वहीं सुधीर गुप्ता, सांसद, किरीट भाई सोलंकी, सांसद, डॉ. सत्यपाल सिंह, सांसद, रमेश चन्द्र कौशिक, सांसद बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद रहे। साथ ही केन्द्रीय राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने सभी प्रतिभाओं का मार्गदर्शन करेंगे।

इस मौके पर मुख्य अतिथि मनसुख मांडविया, केंद्रीय राज्य मंत्री जहाजरानी, बंदरगाह व जलमार्ग मंत्रालय ने कहा कि भारत गौरव फाउंडेशन के द्वारा इस देश की वो प्रतिभाएं जो देश का गौरव पूरी दुनिया भर में बढ़ा रहे हैं उन्हें सम्मानित करने का एक मंच प्रदान कर रही हैं। उन्होंने आगे कहा कि आचार्य चाणक्य ने एक अच्छे शाशक कैसे होने चाहिये उसके सन्दर्भ में कहा था कि राज्य को शाशक के द्वारा जो अच्छा करता है उसे पुरुस्कृत करें क्योंकि सम्मान से ही उसका हौसला बढ़ेगा और जो कुछ वे कर रहे हैं उससे बेहतर करेंगे। ठीक उसी प्रकार भारत गौरव पुरस्कार के माध्यम से सम्मानित होने वाले सभी लोगों में विशिष्ट प्रतिभा हैं और मुझे भरोसा है कि इस सम्मान के बाद वे अपने-अपने क्षेत्रों में और बेहतर योगदान देंगे।

भारत गौरव अवार्ड फाउंडेशन के महासचिव डॉ. संदेश यादव ने कहा कि प्रतिभा ही है जिसके बल पर मनुष्य अन्यों की तुलना में अधिक सुसंस्कृत और सम्मुनत बनता है। हमारे देश में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है, आवश्यकता है तो बस सही समय पर उन्हें प्रोत्साहित कर सम्मानित करने की ताकि वह निरन्तर समाज उत्थान के कार्यों में कार्यरत रहें। जब समाज का विकास होता है तभी देश का भी विकास होता है। प्रतिभाओं को उनकी उपलब्धियों के लिए सम्मानित करने से, हमारे युवाओं को भी प्रेरणा मिलती है और उनके हृदय में भी राष्ट्रभक्ति के प्रति उर्जा उत्पन्न होती है।

उन्होंने कहा कि भारत गौरव अवार्ड फाउंडेशन पिछले तीन वर्षों से समाज उत्थान व राष्ट्र निर्माण में कार्यरत बहुमुखी प्रतिभाओं को सम्मानित करने का अतुल्य कार्य कर रही है। फाउंडेशन का मुख्य उद्देश्य प्रतिभाओं को राष्ट्रीय मंच प्रदान कर, उन्हें उनकी उपलब्धियों के लिए पुरस्कृत करना है, जिनसे उनमें एक नई उर्जा का संचार हो और वह पुनः अपने कार्यक्षेत्रों में और अधिक प्रयास करें।

भारत गौरव अवार्ड के तीसरे संस्करण का आयोजन, प्रतिभाएं सम्मानित
भारत गौरव अवार्ड के तीसरे संस्करण का आयोजन, प्रतिभाएं सम्मानित

भारत गौरव पुरस्कार समारोह की लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड की श्रृंखलाओं में संसदीय सेवा की श्रेणी में सांसद सुधीर गुप्ता, सांसद बृज भूषण शरण सिंह, सांसद रमेश चन्द्र कौशिक, सामाजिक न्याय की श्रेणी में जस्टिस नरेन्द्र कुमार जैन (अध्यक्ष, राष्ट्रीय अल्पसंख्यक शैक्षणिक संस्थान आयोग, भारत सरकार), डॉ. भगवान लाल सहनी (अध्यक्ष, राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग, भारत सरकार), मानव सेवा की श्रेणी में शिवा गोपाल मिश्रा (महासचिव, अखिल भारतीय रेलवे कर्मचारी महासंघ), प्रशासनिक सेवा की श्रेणी में आई.ए.एस. ज्योति कलश (कार्यकारी मुख्य सचिव, नागालैंड सरकार), अध्यात्म की श्रेणी में राजकुमार दास (अधिकारी, श्री राम वल्लभा कुञ्ज, अयोध्या) को सम्मानित किया गया।

भारत गौरव पुरस्कार की श्रृंखलाओं में संसदीय सेवा की श्रेणी में सांसद डॉ. किरीट भाई सोलंकी, कृषि विकास की श्रेणी में कैप्टन विकास गुप्ता (अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश कृषि अनुसंधान परिषद, उ.प्र. सरकार), सरकारी सेवा की श्रेणी में आई.ए.एस. डॉ. हीरा लाल (अतरिक्त मिशन निदेशक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, उ.प्र.), पुलिस सेवा की श्रेणी में आई.पी.एस. करुणा सागर (महानिरीक्षक, गृह मंत्रालय) व आई.पी.एस. संजय कुमार (उपमहानिरीक्षक, केरला पुलिस), सरकारी सेवा में बी.पी. चौधरी (ओ.एस.डी., रेल मंत्रालय, भारत सरकार) व शैलेन्द्र कुमार भाटिया (ओ.एस.डी., नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट्स लिमिटेड, उ.प्र. सरकार), ऋषिकेश उपाध्याय (मेयर, अयोध्या), भूभागीय विकास की श्रेणी में आशीष भूटानी (मुख्य कार्यकारी अधिकारी, भूटानी इन्फ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड) आदि जैसी प्रतिभाओं को विभिन्न श्रेणियों में सम्मानित किया गया।

  • Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *