Swami चिन्मयानंद केस में जांच के लिए SIT गठित करने का आदेश

नई द‍िल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने आज सोमवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री Swami चिन्मयानंद के मामले में सुनवाई करने के बाद केस की पूरी जांच करने के लिए SIT गठित करने का आदेश द‍िया। सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को आरोपों की जांच के लिए SIT(स्‍पेशल इनवेस्टिगेशन टीम) गठित करने का आदेश दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय को निर्देश दिया कि वह छात्रा द्वारा दर्ज की गई शिकायत की जांच की निगरानी करे। SC ने उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍य सचिव को आदेश दिया है कि अगले आदेश तक लड़की और उसके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराए।

बता दें, भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री Swami चिन्मयानंद पर उनके कॉलेज की लॉ की एक छात्रा ने फेसबुक पोस्ट कर उन पर यौन शोषण का आरोप लगाया है।

इससे पहले शुक्रवार को यूपी पुलिस ने लापता एलएलएम छात्रा को राजस्थान से बरामद कर दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के सामने पेश किया था। तब छात्रा ने कहा था कि उसे यूपी में डर लगता है। उसने साथ ही कहा था कि वह माता-पिता से मिले बगैर यूपी नहीं जाएगी। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर दिल्ली पुलिस शाहजहांपुर आई थी, यहां से छात्रा के माता-पिता, भाई-बहन को लेकर दिल्ली चली गई थी।

ये है मामला 
मामला यूपी के शाहजहांपुर से जुड़ा है। शाहजहांपुर में चिन्मयानंद के एक डिग्री कॉलेज से एलएलएम(लॉ) कर रही एक छात्रा ने सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करके चिन्मयानंद पर जान से मारने की धमकी देने और इसके बाद बदहाली में जीने की बात कहते हुए सरकार से मदद मांगी थी।

फेसबुक पर 24 अगस्त को अपलोड एक वीडियो में छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद से उसे और उसके परिवार को जान का खतरा बताया था। इस केस में छात्रा के पिता की तहरीर पर स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण और जान से मारने की धमकी मुकदमा दर्ज किया गया था।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *