7 मई अक्षय तृतीया पर शुभ मुहूर्त में खुलेंगे Yamunotri धाम के कपाट

नई दिल्‍ली। 7 मई को अक्षय तृतीया के दिन विश्व प्रसिद्ध Yamunotri धाम के कपाट सवा एक बजे रोहिणी नक्षत्र में तीर्थयात्रियों के लिए खोले जाएंगे। इससे पहले इसी दिन गंगोत्री धाम के कपाट भी दोपहर 11.30 बजे श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोले जाएंगे।

इससे पहले छह मई को तय मुहूर्त 12.35 बजे गंगा जी की डोली यात्रा अपनी शीतकालीन प्रवास स्थल मुखबा से गंगोत्री के लिए रवाना होगी। रात्रि विश्राम भैरोंघाटी स्थित भैरव मंदिर में किया जाएगा और अगले दिन तय मुहूर्त पर गंगोत्री पहुंचकर मंदिर के कपाट खोले जाएंगे।

Yamunotri मंदिर समिति के उपाध्यक्ष जगमोहन उनियाल ने बताया कि गंगोत्री धाम के कपाट के बाद यमुनोत्री मंदिर के कपाट विधि विधान से खोले जाएंगे।

इसका मुहूर्त नवरात्रि आरंभ के अवसर पर तय किया गया था। गुरुवार को यमुना के शीतकालीन प्रवास खरसाली में यमुना जयंती का पर्व बड़े धूमधाम से मनाया गया तथा गांव में यमुना शोभा यात्रा निकाली गई।

गुरुवार को यमुना जयंती के अवसर पर यमुना के शीतकालीन प्रवास खरसाली में स्थित यमुना मंदिर में यमुनोत्री मंदिर समिति के पदाधिकारियों व यमुनोत्री तीर्थपुरोहितों की उपस्थिति में विधिविधान के साथ यमुनोत्री धाम के कपाट खोलने का मुहूर्त तय गया। इस मौके पर मंदिर समिति के सचिव कृतेश्वर उनियाल, उपाध्यक्ष जगमोहन उनियाल व प्रवक्ता बागेश्वर उनियाल ने कहा कि यमुनोत्री धाम के कपाट सात मई को अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर रोहिणी नक्षत्र में दोपहर 1:15 बजे वैदिक मंत्रोच्चार के साथ खुलेंगे।

इसी दिन शनिदेव की अगुवाई में मां यमुना की डोली शीतकालीन प्रवास खरसाली गांव से सुबह आठ बजे यमुनोत्री धाम के लिए रवाना होगी। साथ ही गंगोत्री मंदिर के कपाट भी इसी दिन सात मई को दोपहर 11:30 बजे खुलेंगे।

इस मौके पर मनमोहन उनियाल, प्यारेलाल उनियाल, पुरुषोत्तम उनियाल, वेदप्रकाश उनियाल, प्रदीप उनियाल, विपिन उनियाल, कुलदीप उनियाल, अरविंद, चंडीप्रसाद, श्यामसुंदर, प्रभाकर, नितिन आदि उपस्थित थे।

-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *