एनएसजी का खुलासा: गाजीपुर मंडी से बरामद IED में था 3 किलो आरडीएक्स

नई दिल्‍ली। दिल्ली की गाजीपुर मंडी में बम मिलना वह भी गणतंत्र दिवस से पहले यह महज एक छोटी बात नहीं थी क्योंकि इतने बड़े बम का मिलना एक आतंकी साजिश का हिस्सा था।

इस मामले में केंद्रीय आतंक निरोधक कमांडो फोर्स की टीम ने अपनी जांच रिपोर्ट दिल्ली पुलिस को सौंप दी है। बरामद आईईडी में लगभग तीन किलोग्राम आरडीएक्स भरा था।

एनएसजी ने दिल्ली पुलिस को बताया है कि गाजीपुर फूल मंडी से हाल ही में बरामद आईईडी में एक टाइमर डिवाइस भी लगी थी। इसके अलावा आईईडी में अमोनियम नाइट्रेट और आरडीएक्स भी मिला था। आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी।

केंद्रीय आतंक निरोधक कमांडो फोर्स ने यहां 14 जनवरी को बरामद हुए बम को निष्क्रिय करने के लिए हरियाणा के मानेसर स्थित अपने राष्ट्रीय बम डाटा केंद्र (एनबीडीसी) से विशेषज्ञों को भेजा था।

सूत्रों ने जांच रिपोर्ट के हवाले से बताया कि दिल्ली पुलिस को अंतिम पोस्ट-ब्लास्ट जांच रिपोर्ट सौंप दी गई है। इसमें लिखा है कि आईईडी में अमोनियम नाइट्रेट, आरडीएक्स, नौ वोल्ट की बैटरी, विस्फोट के लिए भरे जाने वाले लोहे के टुकड़े और एक टाइमर डिवाइस लगी हुई थी।

सूत्रों ने बताया कि आईईडी में आरडीएक्स का उपयोग प्रमुख विस्फोटक के रूप में किया गया था लेकिन सर्किट में एक खामी के कारण यह विस्फोट नहीं हुआ।

गणतंत्र दिवस से पहले बम मिलने से सुरक्षा एजेंसियां हाई अलर्ट पर विशेषज्ञों ने एक बैक-पैक में रखे लोहे के एक बक्से में रखे लगभग तीन किलोग्राम आईईडी को निष्क्रिय किया था। एनएसजी कर्मियों द्वारा फूल मंडी में एक गड्ढा खोदकर आईईडी को उसके अंदर विस्फोट करा दिया गया।

गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) से ठीक पहले राष्ट्रीय राजधानी में विस्फोटक मिलने के कारण इस घटना को दिल्ली पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों ने काफी गंभीरता से लिया था। गणतंत्र दिवस के कारण सुरक्षा एजेंसियां हाई अलर्ट पर हैं।

गाजीपुर के फूल मंडी में एक इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) की बरामदगी का शक अब पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI पर गहराता जा रहा है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उसके आस पास के इलाकों में छापेमारी की लेकिन अब तक कुछ खास हाथ नहीं लगा है। जिस फूल मंडी में इस साजिश को अंजाम देने की प्लानिंग थी, वह गाजियाबाद के बेहद करीब है, ऐसे में टीम मंडी के आस पास के इलाकों की भी तहकीकात कर रही है।
– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *