NSA डोभाल ने बताया, कश्मीर के हालात बिगाड़ने की कोशिश में है पाकिस्‍तान

नई दिल्‍ली। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार NSA अजित डोभाल ने सीमा पार से आतंकियों के सक्रिय होने की पुष्टि की। NSA डोभाल ने कहा कि भारत सरकार और सुरक्षा बल पूरी तरह से अलर्ट हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कश्मीर में आम लोग सरकार के फैसले के साथ हैं और आने वाले वक्त में यह प्रदेश नए अवसर लेकर आएगा। पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि उनके मंसूबे कामयाब नहीं होने वाले क्योंकि कश्मीर में पूरी तरह से शांति है और हालात सामान्य हैं।
‘पाक आतंक के जरिए कश्मीर में हालात बिगाड़ने की कोशिश में’
सीमा पार से आतंकी गतिविधियों का निर्देश मिलने की पुष्टि करते हुए डोभाल ने कहा, ‘सीमा से 20 किमी. की दूरी पर पाकिस्तान के कम्युनिकेशन टावर हैं। हमने उनकी बातचीत सुनी है जिसमें कह रहे हैं कि तुम लोग क्या कर रहे हो? वहां (कश्मीर में) इतने सारे सेब से भरे ट्रक कैसे चल रहै हैं? तुम लोग उन्हें बंद नहीं कर सकते। तुम्हारे लिए क्या अब चूड़ियां भिजवा दें?’
230 पाकिस्तानी आतंकियों के होने की आशंका
NSA डोभाल ने आतंक का साथ देने के लिए पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान में सीमा पार से 230 आतंकियों की पहचान हुई है। उनमें से कुछ को अरेस्ट किया गया है और कुछ की चिह्नित किया गया है। हम किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह से सतर्क हैं।’ उन्होंने सोपोर में घायल हुई ढाई साल की बच्ची को इलाज के लिए एम्स लाने का निर्देश दिया है।
‘पाकिस्तान के पास सिर्फ आतंकवाद ही हथियार’
डोभाल ने कहा कि कश्मीरियों की रक्षा के लिए हमने संकल्प लिया है और इसके लिए अगर हमें कुछ पाबंदियां लगानी हो तो हम वह भी करने के लिए तैयार हैं।
पाक प्रायोजित आंतकवाद पर उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान के पास अब एक मात्र हथियार आतंकियों की मदद करना और आतंक फैलाना भर ही है।’
पाकिस्तान के झूठ की NSA ने खोली पोल
अजित डोभाल ने बताया कि शनिवार को एक बड़े फल विक्रेता को पाकिस्तानी आतंकियों ने मारने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ‘फल विक्रेता के ट्रक को रोका गया और उसके बारे में पूछा, लेकिन वह शायद नमाज के लिए गए थे इसलिए नहीं मिले। एक दुकानदार को दुकान खोलने के कारण गोली मार दी। इन घटनाओं के जरिए पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय जगत में यह दिखाने की कोशिश कर रहा है कि कश्मीर में हालात खराब हैं।’
NSA ने कहा, कश्मीर की जनता हमारे साथ
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने आर्टिकल 370 पर कश्मीरियों के पूर्ण समर्थन की बात कही। उन्होंने कहा, ‘मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि अधिकतर कश्मीरी आर्टिकल 370 हटाए जाने के फैसले में हमारे साथ हैं। वह अपने लिए बेहतर अवसर, आर्थिक प्रगति, रोजगार के अवसर देख रहे हैं। सिर्फ कुछ ही लोग ऐसे हैं जो निजी स्वार्थ के कारण इस फैसले का विरोध कर रहे हैं।’ सैन्य बलों द्वारा सामान्य जनता को प्रताड़ित किए जाने की खबरों का भी उन्होंने खंडन किया। उन्होंने कहा, ‘भारतीय आर्मी प्रदेश में आतंकियों से लड़ने के लिए काम कर रही है। स्थानीय पुलिस और अर्धसैन्य बल ही आम तौर पर सुरक्षा-व्यवस्था देख रही है। सेना द्वारा परेशान किए जाने का तो सवाल ही नहीं उठता।’
डोभाल ने कहा, कश्मीर में हालात तेजी से हो रहे हैं सामान्य
प्रदेश में हालात सामान्य होने का दावा करते हुए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने कहा कि प्रदेश के 199 में से सिर्फ 10 पुलिस स्टेशन क्षेत्र में ही पाबंदिया हैं। डोभाल ने कहा, ’10 थाना क्षेत्र को छोड़कर कहीं कोई पाबंदी नहीं है। 100 फीसदी लैंडलाइन फोन काम कर रहे हैं।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *