राष्ट्रीय सुरक्षा को बनाए रखने के लिए NRC जरूरी: बाबा रामदेव

नई दिल्‍ली। संसद में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (NRC) पर दिए गए बयान की योग गुरु बाबा रामदेव ने प्रशंसा की है। उन्होंने कहा कि NRC राष्ट्रीय सुरक्षा को बनाए रखने के लिए जरूरी है। इसका राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए। यदि एक भी व्यक्ति भारत में अवैध तरीके से रहता है तो वह राष्ट्रीय सुरक्षा और देश की अखंडता के लिए खतरा है। उन्होंने कहा कि हमें अपने देश की सुरक्षा अवश्य करनी चाहिए। इसके लिए NRC फायदेमंद साबित होगा। यह सामाजिक और राजनीतिक मुद्दा नहीं है इसलिए इसे राजनीति से परे रखना चाहिए।
पूरे देश में लागू होगी NRC की प्रक्रिया
इससे पहले, बुधवार को शाह ने संसद में कहा था कि NRC की प्रक्रिया पूरे देश में होगी। किसी को भी परेशान होने की जरूरत नहीं है। भले ही वो किसी भी धर्म का हो। यह केवल सभी को NRC के तहत लाने की प्रक्रिया है। जिन लोगों का नाम ड्राफ्ट लिस्ट में नहीं आया है, उन्हें ट्रिब्यूनल के पास जाने का पूरा हक है। इसके जवाब में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि NRC को किसी भी हालत में राज्य में लागू नहीं किया जाएगा। यह बात सभी को ध्यान में रखना चाहिए। इसे लेकर चिंतित होने की जरूरत नहीं है।
असम में NRC फाइनल लिस्‍ट जारी, 19 लाख लोगों के नाम नहीं
इस साल असम में 31 अगस्त को NRC की फाइनल लिस्ट जारी की गई थी। इस लिस्ट में 3.11 करोड़ लोगों का नाम शामिल था। इसमें 19 लाख लोगों का नाम शामिल नहीं किया गया। हालांकि, असम में ट्रिब्यूनल का गठन किया है। जिनके नाम लिस्ट में नहीं हैं, वो ट्रिब्यूनल में अपील कर सकेंगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »