Azam खान के खिलाफ अब डकैती का भी केस दर्ज

रामपुर। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद Azam खान की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। एक के बाद एक उनके खिलाफ केस दर्ज होते जा रहे हैं।
अब उत्तर प्रदेश की रामपुर पुलिस ने उनके खिलाफ डकैती की धाराओं में केस दर्ज किया है। Azam खान पर आरोप है कि उन्होंने अपना स्कूल बनवाने के लिए लोगों को डरा धमकाकर उनके घर का सामान लूट लिया और उन्हें वहां से भगा दिया।
रामपुर कोतवाली ने दर्ज हुई एफआईआर में एसपी सांसद Azam खान, पूर्व सीओ आले हसन, फसाहत शानू , वीरेंद्र गोयल, एसओजी के सिपाही धर्मेंद्र का नाम शामिल है।
इन पांचों के खिलाफ डकैती, आपराधिक साजिश और धोखाधड़ी की धाराओं में केस दर्ज किया गया है। घटना 15 अक्टूबर 2016 की है।
पीड़ित नन्हे का आरोप है कि सत्ता के दबाव में पुलिस ने उनकी शिकायत पर कोई कार्यवाही नहीं की थी।
अवैध कब्जा करके बनवाया पब्लिक स्कूल
आजम पर आरोप है कि उन्होंने यतीम खाना सराए गेट के पास बनाए गए अपने रामपुर पब्लिक स्कूल के लिए घोसीपुरा के लोगों को धमका कर उनके घर तुड़वा दिए। उनके साथ मारपीट की और उनके घरों में रखा सामान लूट लिया।
जांच में आरोप पाए गए सही
पुलिस ने बताया कि पीड़ित की शिकायत पर मामले की जांच कराई गई। जांच के दौरान पीड़ित द्वारा लगाए गए आरोप सही पाए गए जिसके बाद पुलिस ने केस दर्ज किया। पुलिस ने बताया कि अवैध जमीन पर और अवैध तरीके से रामपुर पब्लिक स्कूल बनाया गया है।
आजम पर साठ से ज्यादा एफआईआर
आपको बता दें कि आजम खान पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने पिछले तीन महीनों में 64 मामले दर्ज किए हैं, जिनमें से अकेले 28 मामले पिछले महीने ही दर्ज हुए हैं। ये सारे केस गंभीर धाराओं में दर्ज हैं। उनके ऊपर सरकारी जमीन कब्जाने से लेकर लगभग दो हजार हरे पेड़ कटवाने तक का आरोप है। उत्तर प्रदेश सरकार आजम को पहले ही भूमाफिया घोषित कर चुकी है। रामपुर कोर्ट आजम की गिरफ्तारी को लेकर अंतरिम राहत देने से इंकार कर चुकी है। हाई कोर्ट ने भी उन्हें अंतरिम राहत देने वाली याचिका खारिज कर दी थी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »