किसी ने सोचा भी नहीं था कि हेलिकॉप्टर घोटाले का राजदार भारत आएगा: पीएम

डिब्रूगढ़। पीएम मोदी ने हेलिकॉप्टर घोटाले का जिक्र कर कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला है। मोदी ने कहा कि किसी ने सोचा भी नहीं था कि हेलिकॉप्टर सौदे में हुए घोटाले का राजदार भारत आएगा। पीएम मोदी ने धेमाजी डिस्ट्रिक्ट और डिब्रूगढ़ जिले के बीच बने इस रेल-रोड ब्रिज (बोगीबील पुल) के उद्घाटन के मौके पर यह बात कही। उन्होंने विकास के मुद्दे पर भी पूर्व की कांग्रेस सरकारों पर निशाना साधा। इस दौरान असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनेवाल भी मौजूद थे।
पीएम ने कहा, ‘पहले विकास परियोजनाओं को लागू करने में बेवजह की हिचकिचाहट दिखाई जाती थी, एनडीए सरकार ने इस रवैये को बदला है।’ उन्होंने कहा कि यही हमारे काम करने का तरीका है। पीएम मोदी ने कहा, ‘भ्रष्टाचार खत्म होने से देश विकास करता है। हमारे खेलों में भी इसका असर देखने को मिल रहा है। असम समेत दूर-दराज गांवों से युवा देश का नाम रोशन कर रहे हैं। हिमा दास समेत अनेक युवा साथी देश का परचम लहरा रहे हैं।’
जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आज का दिन ऐतिहासिक है। आप सभी को देश के सबसे लंबे रेल-रोड ब्रिज की बधाई।’ यही नहीं, संबोधन की शुरुआत पीएम मोदी ने आसामी भाषा में की।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘सुशासन के लिए विख्यात हम सबके श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयीजी का आज जन्मदिन है। उनके जन्मदिन को हम सुशासन के तौर पर मनाते हैं।’
उन्होंने कहा, ‘यह ब्रिज सिर्फ एक ब्रिज नहीं है, बल्कि असम और अरुणाचल के लोगों के लिए लाइफ लाइन है। इस ब्रिज की वजह से ईंटानगर और डिब्रूगढ़ के बीच की दूरी 200 किमी से भी कम रह गई है।’
‘वाजपेयीजी की सरकार के बाद प्रोजेक्ट नहीं हुए पूरे’
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘लगभग 16 वर्ष पहले अटलजी यहां आए थे। उनका सपना था कि बोगीबील ब्रिज का विकास हो। यह ब्रिज उन्हें श्रद्धांजलि है। जब 2004 में वाजपेयीजी की सरकार चली गई, विकास से जुड़े कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट नहीं पूरे किए गए थे।’
‘2014 में सरकार बनने के बाद सारी बाधाओं को किया दूर’
पीएम मोदी ने कहा, ‘2014 में सरकार बनने के बाद हमने इस प्रोजेक्ट की दिशा में आने वाली सारी बाधाओं को दूर किया और करीब 6000 करोड़ की लागत से बने इस ब्रिज को देश को समर्पित किया। अटलजी के जन्मदिवस पर उन्हें आज उत्तम श्रद्धांजलि दी है।’ पीएम मोदी ने कहा कि ऐसी परियोजनाओं में होने वाली देरी भारत के विकास पर प्रतिकूल प्रभाव डाल रही थीं। उन्होंने कहा, ‘जब हमने कार्यभार संभाला, हमने इन परियोजनाओं में तेजी लाई और उनके शीघ्र पूर्ण होने की दिशा में काम किया।’ इसके साथ ही पीएम मोदी ने राज्य की सर्वानंद सोनोवाल सरकार का भी सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।
उन्होंने कहा, ‘लक्ष्य के मुताबिक बच्चों को पढ़ाई, युवाओं को कमाई, बुजुर्गों को दवाई मिलने के साथ ही जन-जन की सुनवाई हो रही है।’
‘हमारी सरकार ने खुलवाए 1.5 करोड़ खाते’
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ’32 लाख शौचालय असम में बन चुके हैं, जिसकी वजह से स्वच्छता का दायरा 38 फीसदी से 98 फीसदी हो गया है। असम में विद्युतीकरण का दायरा 50 प्रतिशत से 90 प्रतिशत तक हो चुका है। याद कीजिए पहले बैंकों में लोगों के खाते ही नहीं थे। डेढ़ करोड़ खाते असम में हमारी सरकार ने खुलवाए हैं। गरीब का, शोषित का, वंचित का सबसे ज्यादा कोई नुकसान करता है तो वह भ्रष्टाचार है। भ्रष्टाचार गरीब से उसका अधिकार छीनता है। पिछले चार-साढ़े चार साल से हमारी सरकार गरीब को अधिकार दिला रही है वहीं, भ्रष्टाचार के खिलाफ मजबूती से लड़ रही है।’
‘हेलिकॉप्टर घोटाले के राजदार को हमारी सरकार लाई भारत’
अगुस्टा वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे मामले के कथित बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल पर पीएम मोदी ने कहा, ‘हेलिकॉप्टर घोटाले का सबसे बड़ा राजदार भारत तक पहुंचेगा यह किसी ने सोचा भी नहीं था लेकिन हमारी सरकार ने इस राजदार को कानून के हवाले करने का काम किया है।’ पीएम मोदी ने कहा, ‘भ्रष्टाचार खत्म होने से देश विकास करता है। हमारे खेलों में भी इसका असर देखने को मिल रहा है। असम समेत दूर-दराज गांवों से युवा देश का नाम रोशन कर रहे हैं। हिमा दास समेत अनेक युवा साथी देश का परचम लहरा रहे हैं।’
‘बिना बैंक गारंटी सात लाख करोड़ रुपये का दिया कर्ज’
प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व की सरकारों पर तंज कसते हुए कहा, ‘एक तरफ हमारी सरकार ने महिलाओं को, नौजवानों को स्वरोजगार के लिए मुद्रा योजना के तहत बिना बैंक गारंटी 7 लाख करोड़ रुपए का कर्ज दिया है, तो वहीं दूसरी तरफ पहले की सरकार ने बैंकों के जो लाखों करोड़ फंसाए थे, उसमें से तीन लाख करोड़ रुपए हमारी सरकार वापस भी ला चुकी है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *