नीतीश और शिवराज ने कहा, अपने लोगों की घर वापसी का पैसा हम देंगे

नई दिल्‍ली। लॉकडाउन की वजह से दूसरे राज्यों में फंसे लोगों की घर वापसी के लिए स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू हो गया है। लोगों की घर वापसी के लिए स्पेशल ट्रेन चलाए जाने पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार को धन्यवाद दिया है। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि बाहर से आने वाले किसी भी व्यक्ति से कोई पैसा नहीं लिया जा रहा है। ट्रेन का किराया राज्य सरकार दे रही है।
बिहार के साथ-साथ मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार ने भी फैसला किया है कि दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों की घर वापसी का खर्च राज्य सरकार उठाएगी।
सीएम नीतीश बोले, प्रदेश सरकार उठा रही खर्च
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया कि जो भी लोग बाहर से आ रहे हैं, उन्हें जिला प्रखंड और पंचायत स्तर पर बने क्वारंटीन सेंटर पर 21 दिन रखा जाएगा। इन क्वारंटीन सेंटर पर बाहर से आने वाले लोगों के लिए खाने-पीने की व्यवस्था के साथ रहने और चिकित्सा की भी बेहतर व्यवस्था की गई है।
उन्होंने कहा कि बाहर से आए लोग जब क्वारंटीन सेंटर से वापस घर जाएंगे तो उन्हें आने जाने के खर्च के साथ अलग से पांच सौ रुपये भी दिए जाएंगे।
नीतीश कुमार ने कहा कि किसी भी हाल में यह रकम 1000 से कम नहीं होगी। मुख्यमंत्री ने रेल किराया मजदूरों से वसूलने की बात कहने वाले विपक्ष को भी आड़े हाथ लिया है। उन्होंने कहा कि यह गलत प्रचारित किया जा रहा था कि राज्य सरकार या केंद्र सरकार ट्रेन से आने वाले लोगों से पैसे वसूल रही है। यही वजह है कि वो खुद सामने आकर बिहारवासियों को बता रहे हैं कि किसी भी व्यक्ति से कोई पैसा नहीं लिया जा रहा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *