KD हॉस्पिटल में शीघ्र खुलेगा न्यूरो साइंस सेण्टर

मथुरा। ब्रजवासियों को सस्ता और बेहतर उपचार दे रहे के. डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर में शीघ्र ही न्यूरो साइंस सेण्टर का भी श्रीगणेश होने जा रहा है। आरके एज्यूकेशनल ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल ने हॉस्पिटल प्रबंधन को अतिशीघ्र न्यूरो साइंस सेण्टर को अंतिम रूप देने के निर्देश दिए हैं। के. डी. हॉस्पिटल में न्यूरो साइंस सेण्टर खुल जाने के बाद ब्रजवासियों को रीढ़ तथा दिमाग की सभी तरह की परेशानियों का सस्ता तथा बेहतर उपचार एक ही जगह मिल सकेगा और उन्हें उपचार के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा।

के. डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर में निरंतर जांच और उपचार की सुविधाओं में इजाफा किया जा रहा है। आर. के. एज्यूकेशनल ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल के निर्देश के बाद बहुप्रतीक्षित न्यूरो साइंस सेण्टर खुलने का रास्ता साफ हो गया है। उम्मीद है कि न्यूरो साइंस सेण्टर में एकाध महीने में ही जांच और उपचार की सुविधाएं लोगों को मिलने लगेंगी। इस सेण्टर में मरीजों को न्यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी, न्यूरोसाइकियाट्री, न्यूरो फिजियोलॉजी, न्यूरो पैथालॉजी, न्यूरो एनेस्थीसिया आदि की सुविधाएं 24 घण्टे मिलेंगी।

संस्थान के प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल का कहना है कि के. डी. हॉस्पिटल न्यूरो से सम्बन्धित बीमारियों के इलाज का हब बनेगा। श्री अग्रवाल का कहना है कि के. डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे होने से यहां आएदिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं, इसी बात को ध्यान में रखते हुए यहां ब्रेन इंजरी तथा ब्रेन स्ट्रोक के इलाज के समुचित प्रबंध किए जा रहे हैं। यहां विशेषज्ञ न्यूरोलॉजिस्ट, न्यूरो सर्जन, न्यूरोसाइकियाट्री रीढ़ तथा दिमाग से जुड़ी हर समस्या का निदान करेंगे।

विशेषज्ञ मनोचिकित्सक डॉ. गौरव सिंह का कहना है कि न्यूरो साइंस सेण्टर में उच्चस्तरीय हाईटेक मशीनों से मरीजों की जांच की जाएगी। यहां एमआरआई, सीटी स्कैन, डीएसए लैब, दो माड्यूलर ओटी, डिजिटल एक्स-रे, आईसीयू, वेंटीलेटर आदि की व्यवस्थाएं की गई हैं। न्यूरो साइंस सेण्टर को न्यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी तथा न्यूरोसाइकियाट्री विभाग मिलकर चलाएंगे। न्यूरोलॉजी संबंधी बीमारियों में आमतौर पर बोलने में अंतर आना, शारीरिक असंतुलन, शरीर में अकड़न, कमजोरी, याददाश्त में कमी, उठने-बैठने तथा चलने में परेशानी, शरीर में कम्पन, मांसपेशियों का कठोर होना, निगलने में कठिनाई आदि लक्षण पाए जाते हैं। डॉ. सिंह का कहना है कि इस सेण्टर में मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित लोगों के उपचार के लिए भी सभी सुविधाएं होंगी तथा दिमागी बीमारियों के लिए अलग सेक्शन होगा।

डॉ. सिंह का कहना है कि न्यूरो संबंधी अधिकांश बीमारियों का निदान प्रारम्भिक अवस्था में ही सम्भव है। न्यूरो सेण्टर में मस्तिष्क से सम्बन्धी सभी परेशानियों, नर्व मांसपेशियों से जुड़े रोग, मायस्थेनिया ग्रेविस, रीढ़ की हड्डी सम्बन्धी रोग आदि का जांच और उपचार किया जाएगा। के. डी. हॉस्पिटल में न्यूरोलॉजी से सम्बन्धित बीमारियों की जांच के लिए एमआरआई, सीटी स्कैन, ईईजी, ईएमजी, एनसीवी आदि सुविधाएं पहले से ही हैं। यहां आधुनिकतम पैथोलॉजी में रक्त की अनेक तरह की जांच की जाती हैं। यहां सभी तरह की जांचों के लिए अत्याधुनिक मशीनें एवं लेबोरेट्री की सुविधाएं उपलब्ध हैं।
– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *