एवरेस्ट फतह: kami rita sherpa ने एक हफ्ते में दूसरी बार अपना ही रिकार्ड तोड़ा

काठमांडू। नेपाल के 50 वर्षीय पर्वतारोही kami rita sherpa ने एक हफ्ते के अंदर दूसरी बाद माउंट एवरेस्ट की सफल चढ़ाई की है। kami rita sherpa ने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी (8,848 मीटर) की रिकॉर्ड 24वीं बार चढ़ाई कर अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा। दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर वे 24वीं बार पहुंचे। वे यह कारनामा करने वाले दुनिया के इकलौते पर्वतारोही हैं। 15 मई को वे 23वीं बार माउंट एवरेस्ट पर पहुंचे थे। कामी 1994 में पहली बार 25 साल की उम्र इस चोटी पर पहुंचे थे।

कामी माउंट के-2, चो-ओयू और अन्नापूर्णा की चढ़ाई कर भी चुके

एवरेस्ट के शिखर पर सबसे ज्यादा बार पहुंचने का रिकॉर्ड उनके नाम है। उन्होंने इस बार भारतीय पुलिस दल को एवरेस्ट तक पहुंचने में गाइड का काम किया। वह गत 15 मई को इस चोटी पर 23वीं बार पहुंचे थे।

पर्वतारोहण कंपनी सेवन समिट ट्रेक्स के चेयरमैन मिंग्मा शेरपा ने कहा, ‘कामी रिता मंगलवार सुबह 6.38 बजे नेपाल की तरफ से एवरेस्ट पर पहुंचे। वह भारतीय पुलिस दल को गाइड कर रहे थे।’ नेपाली शेरपा विदेशी पर्वतारोहियों के लिए गाइड का काम करते हैं। वह उनके लिए एवरेस्ट पर चढ़ने का मार्ग तैयार करते हैं। गत 14 मई से शुरू हुए इस सीजन में दुनियाभर के करीब एक हजार पर्वतारोही एवरेस्ट की चोटी फतह करने की कोशिश कर रहे हैं।

25 बार करना चाहते हैं चढ़ाई

मिंग्मा ने बताया कि कामी 25 बार माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करना चाहते हैं। वह 1994 में पहली बार एवरेस्ट पर चढ़े थे। 1995 में हिमस्खलन और खराब मौसम के कारण उनका अभियान पूरा नहीं हो पाया था। लेकिन उसके बाद से एवरेस्ट पर चढ़ने का उनका सिलसिला लगातार जारी है।

दूसरी ऊंची चोटियां भी कर चुके हैं फतह

कामी 8,000 मीटर से ऊंची विश्व की कई दूसरी कई चोटियां भी फतह कर चुके हैं। इनमें के-2, अन्नपूर्णा, होस्ते और चो-ओयू शामिल हैं।

अब तक 4,400 लोग कर चुके हैं एवरेस्ट फतह

नेपाल के पर्यटन विभाग के अनुसार, 1953 में एडमंड हिलेरी और शेरपा तेनजिंग नोर्गे ने पहली बार एवरेस्ट फतह किया था। तब से 4,400 से ज्यादा पर्वतारोही इस शिखर पर चढ़ चुके हैं।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »