पिद्दी से पाक में कोरोना के करीब 1 लाख मामले, लेकिन इमरान को भारत की चिंता

इस्‍लामाबाद। पाकिस्तान में कोरोना वायरस के कारण हालात बदतर होते जा रहे हैं, लेकिन प्रधानमंत्री इमरान खान को भारत में लॉकडाउन की चिंता सताए जा रही है।
सेना लगाने के बाद भी पाकिस्तान में कोरोना की रफ्तार दुनिया को हैरान कर रही है। बता दें कि पाक अब तक कोरोना के 93 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं जबकि 2 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।
इमरान को भारत की ‘चिंता’
पीएम इमरान खान ने कहा कि लॉकडाउन के कारण भारत में लोग भूखों मर रहे हैं और अमेरिका जैसे अमीर देश में लाइन लगाकर खड़े लोगों को खाना दिया जा रहा है। उन्होंने दावा किया कि पाकिस्तान में उतना नुकसान नहीं हुआ है।
कोरोना को लेकर इमरान ने खड़े किए हाथ
इमरान खान ने कहा कि हम कोरोना को फैलने से नहीं रोक सकते हैं और न ही लॉकडाउन की तरफ जा सकते हैं। गरीब देशों में लॉकडाउन के कारण व्यापक तबाही हुई है। बता दें कि पाकिस्तानी वित्त मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण 30 लाख लोगों की नौकरी जा सकती है।
बोले, पाक लॉकडाउन बर्दाश्त नहीं कर सकता
इमरान खान ने पाकिस्तान में लॉकडाउन के दूसरे चरण को सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान दूसरा लॉकडाउन बर्दाश्त नहीं कर सकता है। लॉकडाउन के कारण देश को 800 करोड़ पाकिस्तानी रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है।
कोरोना संकट के वक्त जब दुनियाभर के राष्ट्राध्यक्ष इस चुनौती से निपटने में अपनी ऊर्जा लगा रहे हैं तब पाक पीएम इमरान खान अपना समय भारत विरोधी प्रॉपेगैंडा फैलाने में लगा रहे हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *