Naveen Patnaik ने कहा- महागठबंधन का हिस्सा नहीं बनेगा बीजद

भुवनेश्‍वर। ओडिशा के मुख्यमंत्री Naveen Patnaik ने बुधवार को यह स्पष्ट किया कि बीजू जनता दल (बीजद) महागठबंधन का हिस्सा नहीं बनेगा।

Naveen Patnaik ने राजधानी भुवनेश्वर में एक बैठक के इतर संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी की नीति के तहत बीजद भाजपा और कांग्रेस दोनों के साथ समान दूरी बनाए रखेगा। उन्होंने कहा, ‘‘हम भाजपा और कांग्रेस से समान दूरी बनाए रखने की हमारी नीति को जारी रखेंगे।’’  पटनायक ने कहा, ‘‘मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि जहां तक महागठबंधन की बात है, तो बीजू जनता दल इसका हिस्सा नहीं है।’’

मंगलवार को धान के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) बढ़ाने की मांग को लेकर बीजद के धरना में भाग लेते हुए पटनायक ने आरोप लगाया कि भाजपा ने 2014 के अपने चुनाव घोषणा पत्र में इस बारे में वादा करने के बावजूद इस मांग की अनदेखी की. महागठबंधन में शामिल होने के बारे में उनकी पार्टी का रूख पूछे जाने पर नवीन पटनायक (Naveen patnaik) ने कहा, ‘‘हमें कुछ वक्त लगेगा और इस बारे में विचार करेंगे.”

बीजू बाबा सही थे

विगत 27 दिसंबर को बीजद के 21वें स्थापना दिवस पर बोलते हुए पटनायक ने अपने दिवंगत पिता और पूर्व मुख्यमंत्री बीजू पटनायक के ओडिशा दृष्टिकोण को याद किया। उन्होंने कहा, ‘बीजू बाबा सही थे। उन्होंने कहा था कि मुझे वित्तीय स्वायत्ता दे दो और मैं ओडिशा को दक्षिण एशिया के उच्च राज्यों में से एक बना दूंगा। मुझे केंद्रीय सहायता या अनुदान नहीं चाहिए। मैं ओडिशा को राज्य के पैसों से विकसित करुंगा।’

इसके अलावा पटनायक की पीएम मोदी को लेकर साधी गई रणनीतिक चुप्पी ने एक बार फिर से दोनों दलों के साथ आने की चर्चाओं को हवा देने का काम किया है। दोनों पार्टियां 1998 और 2009 में गठबंधन में रही हैं। माना जा रहा है कि दोनों एक बार फिर से नजदीक आ रहे हैं। हालांकि कंधमल दंगों में भगवा ब्रिगेड का हाथ होने से नाराज पटनायक ने 2009 में भाजपा से गठबंधन उस समय तोड़ लिया था जब विधानसभा चुनाव में कुछ ही हफ्ते बचे थे।

महिलाओं के लिए किया बड़ा एलान

‘मिशन शक्ति’ सम्मेलन को संबोधित करते हुए नवीन पटनायक ने कहा कि अब ओडिशा में महिला स्वयं सहायता समूहों को तीन लाख तक का कर्ज मिलेगा, वह भी बिना ब्याज के।

इस सम्मेलन में राज्य के विभिन्न हिस्से से करीब 50,000 महिलाओं ने शिरकत की। ओडिशा में करीब छह लाख महिला स्वयं सहायता समूह है।

मुख्यमंत्री ने कह कि उन्हें यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। उन्होंने महिलाओं के डिजिटल रूप से सशक्त बनाने के लिए छह लाख महिला स्वयं सहायता समूहों में प्रत्येक को 3,000 रूपये की वित्तीय सहायता भी प्रदान की।

मालूम हो कि पिछले साल नवंबर में ‘मेक इन ओडिशा’ सम्मेलन के दौरान पटनायक ने छह लाख महिला स्वयं सहायता समूहों को स्मार्टफोन देने का वादा किया था।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *