केस दर्ज होने के बाद मुनव्वर राना का यू टर्न: बोले, तालिबान एक जंगली कौम

लखनऊ। प्रख्यात शायर मुनव्वर राना अब बयानवीर होते जा रहे हैं। महर्षि वाल्मिकी से तालिबान की तुलना करने के बाद लखनऊ में केस दर्ज होने के बाद मुनव्वर राना अब अपने बयान से पलट गए हैं। एक न्यूज़ चैनल से बातचीत में राना ने कहा कि तालिबान पर उनके बयान को जरा भी गंभीरता से न लें। तालिबान तो एक जंगली कौम है।
तालिबानियों के पक्ष में बयान देने के मामले में लखनऊ में एफआइआर दर्ज होने के बाद शायर मुनव्वर राना के सुर बदल गए हैं। अब तो उनको पीएम नरेंद्र मोदी से इश्क भी हो गया है और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भी वह बेहद मुरीद हो गए हैं। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से अपने बयानों को लेकर विवाद में घिरे शायर मुनव्वर राना ने कहा कि उनके बयानों को गंभीरता से नहीं लिया जाए। उन्होंने शायराना अंदाज में बयान दिए थे। मुनव्वर राना ने कहा कि तालिबान एक जंगली कौम है और हिंदुस्तान एक मुल्क।
मुझे पीएम नरेंद्र मोदी से इश्क
मशहूर शायर मुनव्वर राना लम्बे समय से विवादों में हैं। तालिबान को लेकर भी वह काफी गरम हो गए थे, लेकिन अब उनके तेवर ढीले दिखने लगे हैं। मुनव्वर राना ने विवाद के बीच अब कहा कि वह तो पीएम नरेंद्र मोदी से इश्क करते हैं और उनके तालिबान से ज्यादा हथियार भारत में माफिया के पास होने वाले बयान को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए। नरेंद्र मोदी सरकार में देश के विकास के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैं मोदी जी को पसंद करता हूं। मेरी कमजोरी है कि मैं तो मोदी जी से इश्क करता हूं।
जब मैंने अवॉर्ड वापस किया था तो वो मुझसे काफी नाराज थे, लेकिन मेरी मां के निधन पर उन्होंने मुझे पत्र लिखा था और मैं काफी शर्मिंदा हुआ। उन्होंने कहा कि मैं मोदी जी से मिलने गया तो मैंने कहा कि सर, मैं इसलिए मिलने आया हूं कि आपने जब मेरी मां के निधन पर पत्र लिखा तो शर्मिंदा हुआ। जब मैंने अवॉर्ड वापस किया था तो आपने अपने पीए के जरिए मुझे बुलाया था और मैं नहीं आ पाया था। मैंने उनसे आगे कहा कि सबका साथ-सबका विकास का नारा सच्चे तौर पर अमल में आ जाए तो मैं आपको इतिहास के पन्नों में सम्राट अशोक की तरह देखना चाहूंगा, दागदार प्रधानमंत्री की तरह नहीं।
सीएम योगी आदित्यनाथ पीएम बनने के बाद लोगों से मोहब्बत से मिलेंगे
शायर मुनव्वर राना ने कहा कि अगर सीएम योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री बन जाते हैं तो शायद वो लोगों से मोहब्बत से मिलने लगें। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्ज के बाद मुनव्वर राना ने कहा था कि तालिबान से ज्यादा हथियार तो भारत में रहने वाले माफियाओं के पास है। इसके बाद उन्होंने एक और विवादित बयान देते हुए तालिबान व महर्षि वाल्मीकि की तुलना भी कर दी थी। इसके बाद मुखर लोगों ने लखनऊ में उनके खिलाफ केस भी दर्ज करा दिया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *