बेटे तबरेज़ की गिरफ्तारी से बौखलाए मुनव्वर राना, फिर द‍िया वि‍वाद‍ित बयान

लखनऊ। बेटे तबरेज को 14 दिन के लिए जेल भेज द‍िए जाने से शायर पिता मुनव्वर राना ने अपनी बौखलाहट सरकार पर न‍िकालते हुए कहा कि‍ इस सरकार की नजर में अब हर मुस्लिम आतंकी है। हमें परेशान करने के लिए उनके बेटे को गिरफ्तार किया गया है। कोई भी सरकार पांच साल से ज्यादा की नहीं होनी चाहिए। जबक‍ि आज गुरुवार को रायबरेली पुलिस ने तबरेज़  राणा को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

57 दिन से फरार चल रहा था तबरेज
रायबरेली में जमीन विवाद मामले पर खुद पर फायरिंग कराकर अपने चाचा को फंसाने के आरोप में तबरेज को पुलिस ने बुधवार की शाम लखनऊ से पकड़ा था। वह 57 दिन से फरार चल रहा था। तबरेज असलहों का भी शौकीन है। गिरफ्तारी के बाद से उसके कई वीडियो सामने आए हैं।

हमले की प्लानिंग का वीडियो भी पुलिस ने किया था जारी
तबरेज पर हमले से जुड़े रायबरेली पुलिस ने दो वीडियो जारी किए थे। पहले वीडियो में तबरेज शूटर्स के साथ मिलकर होटल ओम क्लार्क के सामने खुद पर हमले की प्लानिंग कर रहा था। वहीं, दूसरे वीडियो में तबरेज अपनी गाड़ी से पेट्रोल पंप पहुंचता हुआ दिखाई दे रहा था। पंप से कुछ दूरी पर ही उसने गाड़ी रोकी। थोड़ी देर बाद बाइक से दो लोग आए। कार के पीछे से घूमकर सामने आए और फायरिंग की। उस वक्त तबरेज गाड़ी रोककर बाहर खड़ा था। नाटकीय अंदाज में दोनों ने तबरेज की कार पर गोली चलाई थी।

टिक-टॉक पर बने इन वीडियो में तबरेज के हाथों में पिस्टल है। कभी वो निशाना लगाते हुए दिख रहा है, तो कभी पिस्टल की मैगजीन खाली करते हुए नजर आया है। इससे पहले भी तबरेज के पिस्टल लहराने के वीडियो सामने आ चुके हैं। तबरेज स्टेट लेवल शूटर भी है।

पिस्टल का लाइसेंस कैंसिल कराने की सिफारिश
रायबरेली के एडिशनल SP विश्वजीत श्रीवास्तव ने बताया कि तबरेज की पिस्टल का लाइसेंस कैंसिल करने की सिफारिश की जा रही है। उनके कुछ वीडियो भी सामने आए हैं। उनकी भी जांच की जा रही है। अगर उसमें कुछ भी आपत्तिजनक या नियमों के खिलाफ होगा तो एक्शन लिया जाएगा।

तबरेज़ ने शात‍िराना ढंग से खुद पर ही करवा द‍िया हमला
रायबरेली में 28 जून की शाम तबरेज ने खुद पर फायरिंग करवाई थी। इसके बाद तबरेज ने अपने चाचा और चचेरे भाई के खिलाफ FIR दर्ज करवाई थी। हालांकि, जब पुलिस ने जांच की तो मामला फर्जी निकला। जांच में पता चला कि मुनव्वर और उनके भाइयों के बीच 8 करोड़ की कीमत वाली पुश्तैनी जमीन को लेकर विवाद चल रहा है।

तबरेज ने अपने चाचा पर दबाव बनाने के लिए खुद पर हमले की साजिश रची थी। बाद में पुलिस ने तबरेज की इस साजिश में शामिल 4 युवकों को पकड़कर जेल भेज दिया था, जबकि तबरेज फरार हो गया था। उसकी तलाश में पुलिस ने लखनऊ में मुनव्वर राना के घर पर भी छापेमारी की थी।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *