MSME ने संस्कृति विवि में छात्रों को दी उद्यमी बनने की प्रेरणा

मथुरा।  MSME (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग) विभाग द्वारा संस्कृति विश्वविद्यालय के सभागार में एक सेमिनार का आयोजन किया गया। इसमें भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग केंद्र आगरा से आए MSME अधिकारियों ने संस्कृति विश्वविद्यालय के कृषि विभाग के छात्र-छात्राओं को अपने उद्यम कैसे खड़े करें और उसमें केंद्र किस तरह से उनकी मदद कर सकता है, जैसी उपयोगी जानकारियां दीं।

बैंक अधिकारियों ने बताया कि विद्यार्थियों के लिए बैंकों द्वारा उद्योग स्थापित करने और धन को विभिन्न योजनाओं में निवेश करने का तरीका बताया।

MSME के फील्ड आफिसर एवं इंडस्ट्रियल मोटिवेशन कैंपेन कमेटी की सदस्य राजन यादव ने छात्र-छात्राओं को बताया कि वे प्रोजेक्ट से जुड़ी अधिकतम जानकारी केंद्र से ले सकते हैं। वे अपने उद्यम को कैसे शुरू करें और उसके लिए किससे मदद ले सकते हैं, जैसी जरूरी जानकारियां देते हुए उन्होंने कहा कि आप लोगों को अपना उद्यम शुरू करना चाहिए। हो सकता है शुरुआती दौर में कठिनाईयों का सामना करना पड़े लेकिन हमारे केंद्र की मदद से आप उसमें एक दिन सफलता अवश्य हासिल कर लेंगे और सफल उद्यमी बनने का सपना पूरा करेंगे।

पंजाब नेशनल बैंक सैमरी के असिस्टेंट मैनेजर आकाश चौरसिया और वरिष्ठ लिपिक मोहर सिंह ने छात्र-छात्राओं को बैंक की योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। छात्र-छात्राओं ने एजूकेशनल लोन और उद्यम के लिए ऋण के बारे में अनेक सवाल किये। बैंक अधिकारियों ने विद्यार्थियों की जिज्ञासाओं का समाधान किया और निरंतर संपर्क में रहने की सलाह दी, ताकि वे सरकार द्वारा शुरू की जाने वाली सुविधाओं का लाभ ले सकें।

इस मौके पर विवि के कुलपति डा. राणा सिंह ने भी विद्यार्थियों को संबोधित किया। इससे पूर्व संस्कृति विवि के एग्रीकल्चर विभाग के डा. जयदेव शर्मा ने आगंतुकों का स्वागत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *