महाराष्ट्र में Modi ने कहा, दुनिया को दिखने लगा है नए भारत का जोश

मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से ठीक एक हफ्ते पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र Modi ने राज्य के जलगांव से अपने चुनाव प्रचार का आगाज किया।
पीएम ने कहा कि नए भारत का नया जोश दुनिया को दिखने लगा है।
उन्होंने कहा कि आप भी अनुभव करने लगे हैं, पर पहले ऐसा होता था क्या? यह Modi के कारण नहीं, आप लोगों के वोट के कारण हो रहा है। आपने जाति, धर्म, संप्रदाय से ऊपर उठकर एक निर्णायक जनादेश दिया है, उसने भारत की छवि में चार चांद लगाए हैं। इसी जनादेश का परिणाम है कि आज भारत की आवाज दुनिया की हर बड़ी ताकत मजबूती से सुन रही है। विश्व का हर देश, हर क्षेत्र आज भारत के साथ खड़ा दिखता है। भारत के साथ मिलकर आगे बढ़ने के लिए उत्साहित है।
370 का उठाया मुद्दा, पहले असंभव लगता था
PM Modi ने कहा कि 5 अगस्त को आपकी भावना के अनुरूप बीजेपी-एनडीए सरकार ने अभूतपूर्व फैसला लिया, जिसके बारे में सोचना तक पहले असंभव लगता था। एक ऐसी स्थिति जिसमें जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के गरीबों, बहन-बेटियों, दलितों, शोषितों के विकास की संभावनाएं नहीं के बराबर थीं। आज जब हम वाल्मीकि जयंती मना रहे हैं। 70 साल हो गए जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में रहने वाले वाल्मीकि समुदाय के लोगों को मानवाधिकारों से वंचित कर दिया गया था।
एक ही स्थिति में केवल अलगाववाद का विस्तार हो रहा था। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख हमारे लिए सिर्फ जमीन का टुकड़ा नहीं है, भारत का मस्तक है। वहां का समूचा जीवन, कण-कण भारत की सोच और शक्ति को मजबूत करता है। अब आस-पड़ोसी की नापाक शक्तियों की गिद्ध दृष्टि को जम्मू-कश्मीर की शांति भंग करने और वहां खून-खराबा करा रही थी और तब हमने सुरक्षा की दृष्टि से आवश्यक कदम उठाए। हिम्मत है तो 370 और 35A को वापस लाने का ऐलान करे विपक्ष
पीएम ने कहा कि आज मैं विरोधियों को चुनौती देता हूं कि अगर आपमें हिम्मत है तो इस चुनाव में स्पष्ट स्टैंड लेकर सामने आएं। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विषय में अनाप-शनाप बातें करने वाले लोग अगर आपमें हिम्मत है तो इस चुनाव में और आने वाले चुनावों में भी घोषणापत्र में ऐलान करें कि वे 370 और 35A को वापस लाएंगे। उन्होंने कहा कि विरोधियों में हिम्मत है तो ऐलान करें कि 5 अगस्त के निर्णय को बदल देंगे वर्ना ये घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें।
तीन तलाक पर कांग्रेस को चुनौती
मोदी ने कहा कि तीन तलाक पर कांग्रेस समेत तमाम दलों ने कोशिश की लेकिन हमने मुस्लिम माताओं-बहनों को जो वादा किया था, उसे निभाया। मैं इसमें भी विरोधी दलों को चुनौती देता हूं कि आपमें हिम्मत है तो घोषणा करें कि फिर से तीन तलाक का कानून लाएंगे। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि लेकिन विरोधी ऐसा नहीं करेंगे क्योंकि उन्हें पता है कि तीन तलाक के कारण सिर्फ मुस्लिम माताओं-बहनों को ही हक नहीं मिला, मुस्लिम पुरुषों को भी यह उचित लगा क्योंकि वे पिता और भाई भी हैं। उन्होंने कहा कि भाई और पिता के नाते मुस्लिम पुरुषों को यह कानून सही लगता है।
कांग्रेस-NCP पर अटैक, पड़ोसी देश की भाषा में बोल रहे
Modi ने कहा, 40 साल से जो असामान्य परिस्थिति थी उसे सामान्य बनाने में 4 महीने भी नहीं लगेंगे लेकिन आज दुर्भाग्य के साथ कहना पड़ रहा है कि देश के कुछ राजनीतिक दल और नेता राष्ट्रहित में लिए गए निर्णय राजनीति करने में जुटे गए हैं। ये दल आपके वोट लेने के लिए आपके बीच में चक्कर काट रहे हैं। आप पीछे कुछ महीनों में कांग्रेस और NCP के बयान देख लीजिए, मेल-मुलाकातों को देख लीजिए। जम्मू-कश्मीर को लेकर जो देश सोचता है, उससे एकदम उल्टा इनकी बातों में दिखता है, इनकी सोच और व्यवहार में दिखता है। भारत की कम, पड़ोसी देश के लोगों की भाषा के साथ ऐसा लग रहा है कि बड़ा तालमेल लग रहा है। यह देश की भावनाओं के साथ खड़े रहने में संकोच कर रहे हैं।
उन्होंने दुनियाभर में भारत को पुरस्कृत किया जा रहा है, सम्मान दिया जा रहा है। इसमें आपसभी का त्याग, तपस्या और जोश है। आज नया भारत अपने वर्तमान को मजबूत तो कर ही रहा है, खुद को भविष्य के लिए तैयार भी कर रहा है। महाराष्ट्र सहित पूरे भारत की भावनाओं के अनुसार चुनौतियों को चुनौती देने का प्रयास कर रहे हैं। जो बातें दशकों से चली आ रही थीं, आज हम सामने से उससे टकराने का मन बना लिए हैं।
पीएम Modi ने कहा कि मैं महाराष्ट्र और हरियाणा की माताओं-बहनों को विशेष आग्रह करना चाहता हूं कि लोकसभा चुनाव में मतदान करके आपने पुरुषों की बराबरी कर ली लेकिन विधासभा चुनाव में माताएं-बहनें पुरुषों से भी आगे निकलनी चाहिए।
इससे पहले पीएम ने मराठी में अपने भाषण की शुरुआत की। पीएम ने कहा कि दोपहर में आप घंटों से बैठे हैं। हम आपके स्नेह और भावना को मैं आदरपूर्वक नमन करता हूं। हम सभी आने वाले 5 वर्षों के लिए देवेंद्र फडणवीस जी की अगुआई में सरकार के लिए एक बार फिर आपसबका समर्थन मांगने आए हैं। लेकिन जलगांव की धरती पर आने का मतलब इतना ही नहीं है। आपने जो विश्वास बीजेपी और एनडीए पर जताया है, हम उसका आभार भी जताने आए हैं। आपने चार महीने पहले सशक्त और नए भारत के निर्माण के लिए वोट किया था।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में 13 से 18 अक्टूबर के बीच 9 जनसभाओं को संबोधित करेंगे। रविवार को पीएम मोदी की दो सभाओं के बाद 16 अक्टूबर को अकोला, पनवेल, पारतुर, 17 अक्टूबर को पुणे, सातारा, परली में रैलियां होंगी। मुंबई में 18 अक्टूबर को पीएम की महारैली होगी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *