पश्चिमी यूपी में पारा zero तक पहुंचा

मेरठ। पहाड़ों पर बर्फबारी के कारण पश्चिमी यूपी के कई शहरों में शनिवार-रविवार की रात का न्यूनतम तापमान zero डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। दिसंबर माह में यह पारा 22 साल में अपने न्यूनतम स्तर पर है। मेरठ में भी पिछले 17 साल में शनिवार की रात सबसे ठंडी रही है।

गन्ना शोध केंद्र मुजफ्फरनगर के मौसम वैज्ञानिक पान सिंह का कहना है कि वह बीते 22 साल से तापमान दर्ज कर रहे हैं। दिसंबर माह में इतना कम तापमान कभी नहीं रहा। इस लोगों के घरों के ऊपर रखे पानी के टैंकों में पानी बर्फ जैसा ठंडा हो गया है।

मेरठ में शनिवार रात का पारा गिरकर 3.2 डिग्री पहुंच गया। एक दिन पहले की अपेक्षा दिन के तापमान में 1.2 डिग्री और रात के तापमान में 2.3 डिग्री की गिरावट आई है। रविवार को दिन भी सबसे सर्द रहा। वहीं सुबह के समय घने कोहरे ने हाईवे पर वाहनों की रफ्तार धीमी कर दी।

मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो मौसम अभी ऐसे ही बना रहेगा। मौसम कार्यालय पर दिन का अधिकतम तापमान 20.4 डिग्री और रात का न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री रिकार्ड किया गया है। अधिकतम आर्द्रता 97 और न्यूनतम 36 प्रतिशत दर्ज की गई।

बता दें कि रविवार सुबह घने कोहरे ने शहर को अपनी आगोश में ले लिया। कोहरा इतना ज्यादा था कि हाईवे पर वाहन रेंगते नजर आए। कोहरा सुबह नौ बजे तक भी कम नहीं हुआ। इस कारण हाईवे पर वाहन चालकों को लाइट जलाकर चलना पड़ा। वहीं रात का तापमान कम होने से मौसम रिकार्ड तोड़ रहा है। मौसम कार्यालय पर दिन का अधिकतम तापमान 20.4 डिग्री और रात का न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री रिकार्ड किया गया है। अधिकतम आर्द्रता 97 और न्यूनतम 36 प्रतिशत दर्ज की गई। एक दिन पहले की अपेक्षा दिन के तापमान में 1.2 डिग्री और रात के तापमान में 2.3 डिग्री की गिरावट आई है।

कोहरा करेगा परेशान
पश्चिमी विक्षोभ का का असर पहाड़ी क्षेत्र में सक्रिय हो गया है। इस कारण अब शीतलहर का प्रकोप कम होगा और सुबह के समय कोहरा बढे़गा। दिन में भी ठंड बढे़गी। आने वाले चौबीस घंटे में ठंड और बढे़गी।

प्रदूषण बढ़ सकता है
कोहरे की दस्तक से प्रदूषण बढ़ने के आसार हैं। अभी तक प्रदूषण ज्यादा नहीं बढ़ा है, लेकिन जिस तरह से कोहरे की दस्तक दिखाई दी है, उससे लगता है कि लगातार कोहरा बना रहा तो प्रदूषण की मात्रा एक बार फिर से मेरठ में बढ़ सकती है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *