2014-15 में मेहुल चौकसी ने राजीव गांधी फाउंडेशन को चंदा दिया: अमित मालवीय

नई दिल्‍ली। राजीव गांधी फाउंडेशन को मिले चंदे को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। बीजेपी के सोशल मीडिया इंंचार्ज अमित मालवीय ने आज आरोप लगाया कि फाउंडेशन को भगोड़े कारोबारी मेहुल चौकसी ने 2014-15 में चंदा दिया था। उन्होंने ट्वीट किया कि 2015 में चौकसी के खिलाफ कर्नाटक में फर्जीवाड़े का एक मामला दर्ज किया गया था लेकिन उनके देश के फरार होने तक कोई चार्जशीट दायर नहीं की गई। वहां इस दौरान कांग्रेस की सरकार थी। उन्होंने सवाल किया कि क्या राजीव गांधी फाउंडेशन को चंदे का मतलब प्रोटेक्टशन मनी नहीं है?
आरोपों के मुताबिक राजीव गांधी फाउंडेशन की सालाना रिपोर्ट में नवसिराज एस्टेट्स प्राइवेट लिमिटेड का नाम चंदा देने वालों में शामिल है। मेहुल चौकसी इस कंपनी के निदेशक हैं। उल्लेखनीय है कि मेहुल चौकसी और उनके भांजे नीरव मोदी 14 हजार करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में मुख्य आरोपी हैं। इस घोटाले के उजागर होते ही चौकसी 2018 में देश से फरार हो गए थे और उन्होंने एंटीगा की नागरिकता ले ली थी।
चीन से चंदा लेने का आरोप
इससे पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आरोप लगाया था कि पीपल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना की सरकार और भारत में चीनी दूतावास ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व वाले राजीव गांधी फाउंडेशन (RGF) को फंड किया है। सोनिया गांधी RGF की अध्यक्ष हैं और इसके बोर्ड में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी शामिल हैं।
राजीव गांधी फाउंडेशन की सालाना रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2005-06 में राजीव गांधी फाउंडेशन को पीपल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना की सरकार और चीनी दूतावास से दो अलग-अलग दानकर्ताओं के रूप में दान (डोनेशन) मिला। कुछ अनुमानों के अनुसार, 2004 से 2006 के बीच दान 20 लाख डॉलर और 2006 से 2013 के बीच 90 लाख डॉलर था।
प्रधानमंत्री राहत कोष का पैसा डायवर्ट करने का भी आरोप
इससे पहले बीजेपी ने प्रधानमंत्री राहत कोष का पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन (RGF) को डोनेट किए जाने का आरोप लगाया था। नड्डा ने कहा कि देश के लोग अपने खून-पसीने की कमाई साथी नागरिकों की मदद के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करते हैं। जनता के पैसे को किसी परिवार के फाउंडेशन में डायवर्ट करना भारत की जनता के साथ सरासर धोखा है। उन्होंने कहा कि एक परिवार के लालच ने देश को बहुत नुकसान पहुंचाया है। कांग्रेस के शाही घराने को निजी लाभ के लिए ऐसी लूट मचाने पर देश से माफी मांगने की जरूरत है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *