मथुरा: शहर के मध्‍य हुई जबर्दस्‍त गोलीबारी में दो लोगों की मौत, तीन घायल

मथुरा। थाना कोतवाली क्षेत्र के छत्ता बाजार अंतर्गत गली सेठ भीखचंद में आज सुबह हुई गोलीबारी के दौरान दो लोगों की मौत हो गई जबकि 3 लोग घायल हुए हैं।
घटना के पीछे कुछ दिनों पहले दो पक्षों के बीच किसी बात को लेकर हुई कहासुनी बताई जाती है।
प्राप्‍त जानकारी के अनुसार आज सुबह चार लोगों ने अचानक गली सेठ भीखचंद में घुसकर सुंदर नामक युवक को निशाना बनाते हुए गोलीबारी शुरू कर दी। घनी बस्‍ती और संकरी गलियों के बीच सुबह के वक्‍त काफी लोगों की मौजूदगी में की गई इस गोलीबारी का कारण पहले तो लोगों को कुछ समझ में नहीं आया लेकिन जब एक युवक को सड़क पर लोहू-लुहान पड़ा देखा तो शिवजी की पूजा करने निकले बसंत चतुर्वेदी ने उसे उठाने का प्रयास किया।
बताया जाता है इस बीच बसंत चतुर्वेदी को भी गोली लग गई और वो वहीं गिर पड़े।
जानकारी के अनुसार सुंदर चतुर्वेदी की मौके पर ही मौत हो गई और बसंत चतुर्वेदी ने अस्‍पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया।
गोलीबारी के चलते दो अन्‍य लोग भी घायल हुए हैं जिनके नाम अंकुर और रमाकांत चतुर्वेदी हैं। रमाकांत चतुर्वेदी पेशे से वकील हैं।
इनके अलावा केदारनाथ चतुर्वेदी नामक एक और व्‍यक्‍ति के सिर में चोट लगी है।
प्रत्‍यक्षदर्शियों के अनुसार केदारनाथ चतुर्वेदी ने एक हमलावर युवक को पकड़ लिया था और उसी ने केदारनाथ चतुर्वेदी की पकड़ से छूटने के लिए उनके सिर पर तमंचे की बट से प्रहार किया जिससे उनके सिर में चोट आई है। हालांकि इस सबके बावजूद हमलावर का तमंचा वहीं गिर गया जिसे मौके से पुलिस ने तमाम अन्‍य खोखा कारतूसों सहित बरामद कर लिया है।
बताया जाता है कि हमलावर पक्ष के लोग कोतवाली के सामने स्‍थित खारन मौहल्‍ले में सब्‍जी की दुकान करते हैं और वहीं उनका कुछ दिनों पहले दूसरे पक्ष से किसी बात को लेकर विवाद हुआ था।
एक अन्‍य जानकारी के अनुसार मृतक सुंदर भी गोलीबारी के बीच आने के कारण मारा गया, हमलावरों से विवाद का उससे कोई लेना-देना नहीं है।
यह जानकारी देने वालों के मुताबिक जिन लोगों को निशाना बनाकर गोलीबारी की गई वो भाग निकलने में सफल रहे।
वो लोग भी गली सेठ भीखचंद से जुड़े गोलपाड़ा मौहल्‍ले से ताल्लुक रखते हैं।
बाद में एक हमलावर घायलावस्‍था में जिला अस्‍पताल पहुंचा जिसे लोगों ने पहचान कर मौके पर मौजूद पुलिस के सुपुर्द कर दिया।
बताया जाता है कि यह युवक क्रॉस केस बनाने के मकसद से खुद को घायल कर मेडीकल कराने पहुंचा था।

शहर के बीचोंबीच हुई इस जबर्दस्‍त गोलीबारी के बाद कोतवाली पुलिस के अलावा एसएसपी गौरव ग्रोवर तथा आईजी ए सतीश गणेश भी जा पहुंचे।
पुलिस ने लोगों से जानकारी लेकर उन्‍हें आश्‍वस्‍त किया कि शीघ्र से शीघ्र सभी हमलावरों को पकड़ कर उनके खिलाफ सख्‍त कानूनी कार्यवाही की जाएगी।
जो भी हो, लेकिन इसमें कोई दो राय नहीं कि जिस तरह एक छत्ता बाजार जैसे व्‍यस्‍ततम इलाके से होकर भीड़ भरी संकरी गली में चार लागों ने बेखौफ गोलीबारी करते हुए दो लोगों की जान ले ली तथा तीन लोगों को घायल कर दिया वह कानून-व्‍यवस्‍था पर सवाल उठाने के लिए पर्याप्‍त है।
-Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *