Mahindra ने लॉन्च की CISF के लिए Marksman, हैंड ग्रेनेड भी इसपर बेअसर

नई दिल्‍ली। महिंद्रा ग्रुप ने CISF के लिए Marksman को लॉन्च कर दिया है, यह कार आतंकी हमलों से निपटने और आपातकालीन स्थिति में लोगों को जल्द से जल्द मदद पहुंचाएगी।

आपातकालीन स्थिति में लोगों को जल्दी मदद पहुंचाने और आतंकी हमलों से निपटने के लिए Mahindra Group ने सुरक्षा एजेंसियों के लिए Mahindra Marksman पेश की है। कंपनी देश के पहले एयरपोर्ट दिल्ली के हवाई अड्डे पर केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) इसी आर्मर्ड मार्क्समैन व्हीकल से सुरक्षा देगी।

Mahindra ने हाल ही में CISF को शुरुआती तौर पर 6 आर्मर्ड व्हीकल Mahindra Marksman दिए हैं। CISF भारत की प्रमुख संस्थाओं जैसे परमाणु संस्थानों, विद्युत संयत्रों, हवाई-अड्डों, समुद्रीपत्तनों, संवेदनशील सरकारी भवनों तथा विरासत स्मारकों को सुरक्षा प्रदान करती है।

क्या है Mahindra Marksman की खासियतें?

Mahindra Marksman में कुल 6 लोगों के बैठने की क्षमता है और इसमें दो सीट आगे और 4 सीट पीछे की तरफ दी गई हैं। मार्क्समैन में कुल 6 लोगों के बैठने की क्षमता है जिसमें 2 लोग आगे और 4 लोग पीछे आसानी से बैठ सकते हैं।

ब्लू और व्हाइट कलर से सजी हुई महिंद्रा का यह लाइट कॉम्पैट वाहन है, जो कि B6 मानकों से लैस है। इसमें सवार लोगों छोटे हथियारों के हमलों के साथ-साथ हैंड ग्रेनेड के हमलों से भी बचाव कर सकते हैं। यह वाहन फ्लोर ब्लास्ट प्रोटेक्शन से भी लैस है, जिसपर दो हाथगोले के बराबर ब्लास्ट झेलने की क्षमता है।

मार्क्समैन फ्लोर ब्लास्ट प्रोटेक्शन से लैस है। इस वाहन पर 2 हाथगोले के बराबर ब्लास्ट झेलने की क्षमता है।
मार्क्समैन कुल 2 इंजन विकल्प 2.2 लीटर mHawk CRDe डीजल इंजन और 2.6 लीटर टर्बोचार्ज्ड DI इंजन शामिल है।
इसका CRDe डीजल इंजन 120 बीएचपी की पावर वहीं इसका DI इंजन 115 बीएचपी का पावर जनरेट करता करता है। कार के दोनों इंजन 5 स्पीड गियरबॉक्स ट्रांसमिशन से लैस है।
महिंद्रा का यह लाइट कॉम्बैट व्हीकल लेवल बी6 स्टैंडर्ड पर बेस्ड है जो इसमें सवार लोगों को छोटे हथियारों के हमलों के साथ हैंड ग्रेनेड के हमालों से भी सुरक्षा प्रदान करता है।
इस कार का डिजाइन देखने में स्कॉर्पियो के प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। हालांकि यह कार स्कॉर्पियो से ज्यादा वजनी है।

गौरतलब है कि दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा देश का वो पहला हवाई अड्डा बन गया है जहां सीआईएसएफ को यह सुरक्षा देगी। शुरूआती तौर पर कंपनी ने सीआईएसएफ को 6 आर्मर्ड वाहन महिंद्रा मार्क्समैन दिए हैं। सीआईएसएफ भारत की परमाणु संस्थानों, हवाई-अड्डों , समुद्रीपत्तनों , विद्युत संयत्रों , संवेदनशील सरकारी भवनों तथा विरासत स्मारकों जैसे प्रमुख संस्थानों को सुरक्षा प्रदान करती है।

-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *