लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश के केस में चार लोगों के खिलाफ एफआईआर

लखनऊ। न्याय न मिलने पर लखनऊ लोकभवन के सामने पर आत्मदाह का प्रयास करने के मामले में पुलिस ने 4 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि गंभीर रूप से घायल मां-बेटी को इसके लिए उकसाया गया था। आत्मदाह के लिए उकसाने के मामले में लखनऊ पुलिस ने 4 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।
लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने बताया कि मां-बेटी को आत्मदाह के लिए उकसाने के इस प्रकरण में पुलिस ने (एआईएमआईएम) के अमेठी के जिला अध्यक्ष कादिर खान को दबोचा है। कादिर खान कांग्रेस का पूर्व प्रवक्ता भी है। कादिर खान पर मां-बेटी को लोक भवन के सामने आत्मदाह के लिए उकसाने का आरोप है। मां-बेटी बस से पेट्रोल लेकर आई थीं। यह दोनों अमेठी से लखनऊ आई वहां से फिर लोक भवन पहुंची।
कांग्रेस प्रवक्ता के संपर्क में थीं मां-बेटी
पुलिस कमिश्नर ने कहा कि मां-बेटी इस प्रकरण में आरोपित कादिर खान के साथ कांग्रेस के प्रवक्ता अनूप पटेल के संपर्क में थीं। इनके मोबाइल की सीडीआर से इसकी पुष्टि हुई है। इस प्रकरण में गुड़िया की भाभी आसमां और कादिर को गिरफ्तार किया गया। इन दोनों आरोपितों पर मां-बेटी को भड़काने का आरोप है।
लोकभवन के सामने हुए कांड पर सियासत
बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कार्यालय लोकभवन के सामने हुए आत्मदाह के मामले पर राजनीति शुरू हो गई है। शासन के स्तर से खुद जांच की निगरानी की जा रही है। वहीं विपक्षी दल इस मुद्दे को लेकर योगी सरकार की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगा रहे हैं। यूपी की पूर्व सीएम मायावती ने इस मामले को लेकर योगी सरकार पर कटाक्ष किया है।
मायावती ने की कार्यवाही की मांग
मायावती ने अपने एक ट्वीट में लिखा, ‘जमीन विवाद प्रकरण में अमेठी जिला प्रशासन से न्याय न मिलने पर मां-बेटी को लखनऊ में सीएम कार्यालय के सामने आत्मदाह करने को मजबूर होना पड़ा। यूपी सरकार इस घटना को गंभीरता से ले तथा पीड़ित को न्याय दे व लापरवाह अफसरों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही करे ताकि ऐसी घटना पुनः न हों।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *