संस्कृति विवि में ISHRAE स्टूडेंट चैप्टर का शुभारंभ

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय में समारोह पूर्वक ISHRAE के ‘स्टूडेंट चैप्टर’ की स्थापना हुई। इस दौरान ISHRAE दिल्ली चैप्टर के अध्यक्ष प्रदीप दुआ ने विवि के छात्रों को बधाई देते हुए कहा कि ISHRAE (Indian Society for Heating refrigeration and Air Conditioning Engineers) आपको वे सभी प्लेटफार्म उपलब्ध कराएगा जो आपकी ज्ञान वृद्धि और रोजगार दिलाने के लिए अधिक से अधिक सहयोग करेंगे।

उनका कहना था कि यह एक ऐसी भारतीय संस्था है जिसके 14 हजार विद्यार्थी सक्रिय सदस्य हैं। हम इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों के लिए वो प्लेटफार्म उपलब्ध कराते हैं जिसके द्वारा विद्यार्थी व्यवहारिक ज्ञान अर्जित करते हैं। बड़े-बड़े सेमिनार में नए मौकों, नई उपलब्धियों और नए ज्ञान का अर्जन होता है। संस्था द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रदर्शनी साउथ एशिया की सबसे बड़ी प्रदर्शनी मानी जाती है।
इसमें अनेक कंपनियां अपने नए-नए उत्पादों को लेकर आती हैं, जहां इंजीनियर्स को इन्हें देखने का मौका मिलता है, तकनीक जानने का मौका मिलता है। साथ ही साथ कंपनियों से संपर्क होता है, रोजगार का भी अवसर मिलता है।

उन्होंने बताया कि संस्था के Job Junction में विद्यार्थियों को रोजगार का मौका मिलता है। इंजीनिरिंग का यह क्षेत्र बहुत व्यापक है, इसमें रोजगार की बहुत संभावनाएं हैं। इसमें शुरुआत में हो सकता है कि विद्यार्थी को अन्य स्ट्रीम की तरह पैकेज न मिलता हो, लेकिन चार-पांच साल के अनुभव के बाद वह अपना काम शुरू कर सकता है। यह काम बहुत कम लागत में शुरू हो सकता है और एक दिन वो तमाम अन्य लोगों को रोजगार देने वाला बन सकता है।

इस मौके पर संस्कृति विवि स्टूडेंट चैप्टर के चयनित पदाथिकारियों को कर्तव्य और दायित्वों के पालन की शपथ दिलाई गई।

समारोह में ISHRAE आगरा सब चैप्टर के अध्यक्ष शैलेंद्र माथुर, दिल्ली चैप्टर असिस्टेंट सेक्रेटरी पूर्णिमा शर्मा के अलावा संस्कृति विवि में इंजीनियरिंग विभाग के डीन विनसेंट बालू, पालीटेक्निक के निदेशक प्रोफेसर डीआर यादव, डा.जयदेव शर्मा आदि ने भी विचार व्यक्त किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *