रेप पीड़िता के पिता की हत्या में भी कुलदीप सेंगर समेत 7 दोषी करार

नई द‍िल्ली। दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने बुधवार को पूर्व भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत सात आरोपियों को दुष्कर्म पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में दोषी करार दिया गया, जबकि चार आरोपियों को बरी कर दिया गया है।

इस मामले में पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत कुल 11 आरोपी थे।  इनमें से 4 बरी किए गए है। बाकी 7 को कोर्ट ने पीड़िता के पिता की कस्टडी में हुई मौत का दोषी माना है। सजा का ऐलान 12 मार्च को किया जाएगा। धारा 304 और 120b में कुलदीप सेंगर को तीस हजारी कोर्ट ने दोषी करार दिया है।

आरोपी कुलदीप सेंगर समेत जिन 7 लोग को दोषी करार दिया गया है, इनमें से दो यूपी पुलिस के अधिकारी है। एक एसएचओ है, दूसरा सब इंस्पेक्टर है।

जज ने की सीबीआई और वकील की तारीफ

फैसला सुनाते हुए जज ने कहा कि मेरी जिंदगी का सबसे चुनौतीपूर्ण ट्रायल रहा। जज ने सीबीआई की सराहना की। पीड़ित के वकील की भी सराहना की। कुलदीप सेंगर से जज ने कहा कि आप क्या कहना चाहेंगे। उसने कहा मैं निर्दोष हूं। जज ने कहा कि आपने टेक्नोलॉजी का अच्छा इस्तेमाल किया।

ये हुए दोषी करार

कुलदीप सेंगर -दोषी, कामता प्रसाद, सब इंस्पेक्टर – दोषी,
अशोक सिंह भदौरिया, SHO -दोषी, विनीत मिश्रा उर्फ विनय मिश्रा -दोषी, बीरेंद्र सिंह उर्फ बउवा सिंह -दोषी, शशि प्रताप सिंह उर्फ सुमन सिंह -दोषी,जयदीप सिंह उर्फ अतुल सिंह – दोषी।

ये हुए बरी
राम शरण सिंह उर्फ सोनू सिंह – बरी, शैलेंद्र सिंह उर्फ टिंकू सिंह – बरी, अमीर खान, कॉन्स्टेबल – बरी,
शरदवीर सिंह – बरी

गौरतलब है कि जिस युवती के साथ दुष्कर्म के दोष में सेंगर जेल की सजा काट रहा है, उसके पिता की 9 अप्रैल, 2018 को न्यायिक हिरासत में मौत हो गई थी। उस पर लगा दुष्कर्म का आरोप भी सिद्ध हो चुका है और फिलहाल वह तिहाड़ जेल में उम्रकैद की सजा भुगत रहा है।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *