कोहली का हर साल वनडे सेंचुरी लगाने का सिलसिला थम गया

कैनबरा। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने बुधवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कैनबरा में सीरीज के तीसरे और आखिरी मैच में 63 रन की पारी खेली। इसके साथ ही साल 2009 से हर साल वनडे सेंचुरी लगाने का उनका सिलसिला थम गया।
दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार कोहली के नाम वनडे इंटरनेशनल में 43 वनडे सेंचुरी हैं। कोहली ने अपनी पहली वनडे सेंचुरी दिसंबर 2009 में श्रीलंका के खिलाफ ईडन गार्डंस मैदान पर लगाई थी। इसके बाद वह कभी भी किसी कैलेंडर इयर में सेंचुरी लगाने से नहीं चूके। साल 2008 में कोहली ने डेब्यू किया था और इस साल उन्होंने पांच मैच खेले थे लेकिन कोई शतक नहीं लगा पाए थे।
बीते तीन साल में तो कोहली का बल्ला जमकर बोल रहा है। बीते तीन साल में उन्होंने 17 सेंचुरी लगाई हैं। 2017 और 2018 में छह-छङ और 2019 में पांच सेंचुरी लगाईं।
कोहली के सेंचुरी न लगा पाने की एक वजह इस साल अधिक मैच न होना भी है। इस साल कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के कारण भारतीय टीम ने सिर्फ नौ वनडे इंटरनेशनल मैच ही खेले।
बुधवार को हालांकि कोहली ने अपने नाम एक अन्य बड़ी उपलब्धि दर्ज की। वह वनडे इंटरनेशनल में सबसे कम पारियों में 12000 रन पूरे करने वाले बल्लेबाज बन गए। कोहली ने अपने 251वें मैच में यह रेकॉर्ड बनाया। उन्होंने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर का रेकॉर्ड तोड़ा। सचिन ने 309वें मैच में 12000 रन पूरे किए थे।
रविवार को सीरीज के दूसरे मैच में कोहली ने 22000 इंटरनैशनल रन पूरे किए थे। सिडनी में हुए इस मुकाबले में कोहली ने 89 रन की पारी खेली थी। इस साल कप्तान के रूप में कोहली को लगातार पांचवें वनडे में हार का सामना करना पड़ा है। उन्हें पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 वनडे मुकाबलों में हार मिली है और फिर ऑस्ट्रेलिया में अभी तक दो मैच हारे हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *