Chocolate की चोरी करने वाला बच्चा पांच महीने से जेल में बंद

कानपुर। कानपुर में Chocolate चोरी में पांच माह से एक 12 साल का बच्चा राजकीय संप्रेक्षण गृह में बंद है। Chocolate चोरी में बंद इस बच्चे की रिहाई के लिए जिला प्रोबेशन अधिकारी ने किशोर न्याय बोर्ड में अर्जी दी है। कहा है कि बालहित में बच्चे की रिहाई कर दी जाए। किशोर न्याय बोर्ड ने बकरा और मोबाइल चोरी में दो किशोर को सात माह बाद रिहा कर दिया है।

जिला प्रोबेशन अधिकारी अजीत कुमार ने बताया कि एक बच्चा चोरी और माल बरामदगी में बंद है। उसने संप्रेक्षण गृह अधीक्षक को बताया था कि उसे चॉकलेट चोरी में पकड़ा गया था। पुलिस की चार्ज शीट किशोर न्याय बोर्ड में जाती है। गृह में आने वाले कागजातों में अभियुक्त और अपराध की धाराएं ही लिखी होती हैं।

चॉकलेट चोरी के आरोपी समेत छोटी-मोटी धाराओं में बंद नौ किशोरों की रिहाई के लिए किशोर न्याय बोर्ड में अर्जी दी गई थी। बोर्ड ने दो किशोर को राहत दे दी है। इनमें एक 15 साल का किशोर महाराजपुर थाने से बकरा चोरी में बंद था। दूसरे 16 साल का किशोर नवाबगंज थाने से मोबाइल चोरी में बंद था।

बोर्ड ने दोनों बच्चों को राजकीय संप्रेक्षण गृह में बिताई गई अवधि की सजा देकर रिहा करने का आदेश दिया। चॉकलेट चोरी में बंद बच्चे को भी जल्द रिहाई मिल सकती है। राजकीय संप्रेक्षण गृह बौद्ध नगर नौबस्ता में इस समय 64 किशोर बंद हैं। इनमें 51 किशोर जिले के और बाकी कानपुर देहात के हैं। एक किशोर की उम्र 18 साल पूरी होने पर जिला कारागार स्थानांतरित कर दिया गया है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *