5 आरोपी गिरफ्तार कर कर्नाटक पुलिस ने खोला मैसूर गैंगरेप मामला

कर्नाटक पुलिस ने मैसूर में हुए गैंगरेप मामले का पर्दाफाश कर दिया है। पुलिस ने इस कृत्य में शामिल रहे पांच आरोपियों को धर दबोचा है। कर्नाटक के गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने कहा कि अपराधियों को पकड़ने के लिए अभियान सफल रहा। सीएम बसवराज बोम्मई ने कहा कि वह पूरे अभियान को लेकर खुद अपडेट ले रहे थे।
सीएम बोम्मई ने जानकारी देते हुए कहा, ‘मैसूर की घटना को पुलिस ने बहुत गंभीरता से लिया था। पांच टीमों का गठन कर दिया गया था और वे जांच में लगे हुए थे। मैंने उन्हें जल्द से जल्द आरोपियों को पकड़ने का आदेश दिया था। हमारी पुलिस ने पहले भी कई केस का खुलासा किया है।’ प्रदेश के डीजीपी इस केस को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकते हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार गिरफ्तार किए गए पांच में से चार आरोपियों को तमिलनाडु के सत्यमंगला में गिरफ्तार किया गया जबकि पांचवें को कर्नाटक के चामराजनगर से पकड़ा। इनमें से तीन की आपराधिक पृष्ठभूमि थी। आरोपियों ने कथित तौर पर घटना का एक वीडियो भी बनाया और ब्लैकमेल करते हुए तीन लाख रुपये की मांग भी की। ऐसा नहीं करने पर वीडियो वायरल करने की धमकी भी दी गई। जब लड़की और उसके दोस्त ने रकम देने में असमर्थता जताई तो उन लोगों के साथ मारपीट की गई।
मैसूर में एमबीए की पढ़ाई कर रही 22 साल की एक युवती के साथ गैंगरेप की घटना सामने आई। अपने एक दोस्त के साथ चामुंडी हिल एरिया में बाइक राइड पर गई युवती के साथ 6 लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया। विरोध करने पर दोस्त की भी पिटाई की गई। वारदात के बाद पीड़िता और उसके दोस्त ने करीब 300 मीटर दूर अलानाहल्ली में आउटर रिंग रोड पर पहुंचकर लोगों से मदद मांगी, जहां से उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *