अमेरिका में जॉनसन एंड जॉनसन की कोरोना वैक्‍सीन को मिला अप्रूवल

वॉशिंगटन। Moderna और Pfizer के बाद अब अमेरिका में तीसरी वैक्सीन को मंजूरी मिल गई है। फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने जॉनसन एंड जॉनसन (J&J) की वैक्सीन को अप्रूवल दे दिया है। J&J की वैक्सीन दो की जगह सिर्फ एक खुराक से ही असरदार है। अमेरिका में 5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत कोरोना वायरस के कारण हो चुकी है और वैक्सिनेशन को तेज करने के लिए बेसब्री से ऐसी वैक्सीन का इंतजार किया जा रहा था, जिसकी एक ही खुराक काफी हो।
तेज वैक्सिनेशन की उम्मीद
FDA के पैनल ने एकमत से वैक्सीन को क्लियर किया और कहा कि वैक्सीन गंभीर बीमारी, अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत और मौत की आशंका को कम करने में वैक्सीन को असरदार पाया गया। इससे शरीर में सुरक्षा पैदा होती मिली। तीसरी वैक्सीन मिलने से वैक्सिनेशन प्रोग्राम में तेजी की उम्मीदें बढ़ गई हैं। माना जा रहा है कि अब देश में हर वयस्क को वैक्सिनेट किया जा सकेगा।
गंभीर साइड इफेक्ट नहीं
J&J की वैक्सीन का ट्रायल तीन महाद्वीपों में किया गया था। अमेरिका में गंभीर बीमारी के खिलाफ 85.9%, दक्षिण अफ्रीका में 81.7% और ब्राजील में 87.6% सुरक्षा पाई गई। खास बात है कि इन देशों में वायरस के नए वेरियंट पाए गए हैं जो चिंता का कारण बने हैं। ये वेरियंट पहले के मुकाबले ज्यादा संक्रामक हैं। ट्रायल में सिर्फ 2.3% गंभीर साइड इफेक्ट देखे गए। इसके लिए adenovirus की मदद से प्रोटीन को शरीर में पहुंचाया जाता है जिससे इम्यून रिस्पॉन्स पैदा होता है।
अभी के आंकलन के मुताबिक जून के आखिर तक 10 करोड़ खुराकें तक उपलब्ध हो सकती हैं लेकिन J&J ने माना है कि इस महीने की शुरुआत में 30 से 40 लाख खुराकें फौरन उपलब्ध हो सकती हैं। राष्ट्रपति जो बाइडेन ने FDA की मंजूरी को अमेरिका के लिए उत्साहजनक खबर बताया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *