जयंती: स्‍वामीजी के कुछ सूत्र आत्‍म विश्वास का संचार करने को काफी

आज स्वामी विवेकानंद की जन्‍मतिथि है, स्‍वामीजी का जन्‍म 12 जनवरी 1863 के दिन कोलकाता में हुआ था। इस अवसर पर स्‍वामी जी के कुछ सूत्र अपनाकर हम अपने भीतर आत्‍मविश्वास का संचार ।
लाइफ में कभी मोटिवेशन की कमी फील हो रही हो तो स्वामी विवेकानंद के ये सूत्र आपकी मदद कर सकते हैं। जीवन में कई बार हम ऐसी परिस्थितियों का सामना कर रहे होते हैं जो किसी को भी बेहद निराश कर सकती हैं। ऐसे मौके पर विवेकानंद की ये अनमोल बातें आपको एक बार फिर आत्मविश्वास से भर सकती हैं।
सफल जीवन का राज
स्वामी विवेकानंद ने कहा है कि अगर आप सफल जीवन जीना चाहते हैं तो इसकी पहली सीढ़ी आत्मविश्वास की है। जिस व्यक्ति में आत्म विश्वास नहीं होता वो बलवान होकर भी कमजोर ही बना रहता है। जबकि इसके विपरीत जिस व्यक्ति में आत्म विश्वास भरा हुआ होता हैं वो कमजोर होकर भी बलवान ही रहता है।
सफल होने के लिए लगातार सीखते रहें
स्वामी विवेकानंद के अनुसार व्यक्ति जब तक जीए सीखता रहे। संसार में अनुभव ही आपका सबसे बड़ा शिक्षक होता है।
कोई काम असंभव नहीं
स्वामी विवेकानंद कहते हैं कि ऐसा कोई कार्य नहीं है जो मनुष्य नहीं कर सकता। संसार का सारा सामर्थ्य और ऊर्जा हमारे अंदर ही मौजूद है। अगर आप कोशिश करेंगे तो आप कुछ भी कर सकते हैं।
तारीफ हो या निंदा
स्वामी विवेकानंद के अनुसार लोग चाहें तुम्हारी तारीफ करें या निन्दा, चाहे तुम पैसे वाले हो या न हो, तुम कभी भी सच्चाई के रास्ते से मत हटना। सत्य ही आपको सफलता की सीढ़ी तक ले जाएगा।
किसी के सामने सिर मत झुकाना
स्वामी विवेकानंद के अनुसार इंसान को कभी भी अपनी आत्मा को छोड़कर किसी और के सामने सिर नहीं झुकाना चाहिए। Self Confidence जगाते हुए आप खुद जान जाऐंगे कि आप क्या गलत और सही कर रहे हैं।

-Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *