जसप्रीत बुमराह ने कहा, कप्तानी का मौका मिलता है तो मेरे लिए सम्‍मान की बात

भारतीय तेज गेंदबाजी के अगुआ जसप्रीत बुमराह ने सोमवार को कहा कि यदि भविष्य में उन्हें राष्ट्रीय टीम की कप्तानी का मौका मिलता है तो वह यह जिम्मेदारी निभाने से कभी पीछे नहीं हटेंगे।
विराट कोहली का टेस्ट कप्तानी छोड़ने के बाद उनका तीनों प्रारूपों में कप्तानी करियर समाप्त हो गया है जबकि रोहित शर्मा अगले साल 35 वर्ष के हो जाएंगे और ऐसे में सवाल उठता है कि ऐसा कौन सा खिलाड़ी हो सकता है जो कि लंबी अवधि तक टीम की कमान संभाल सकता है। इस लिहाज से बुमराह को भी कप्तानी के दावेदारों में माना जा रहा है।
बुमराह ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बुधवार से शुरू होने वाली ODI सीरीज से पूर्व संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘यदि यह मौका मिलता है तो यह सम्मान होगा और मुझे नहीं लगता कि कोई भी खिलाड़ी इसके लिए मना करेगा और मैं भी अपवाद नहीं हूं। चाहे वह कोई भी नेतृत्व समूह हो, मैं हमेशा अपनी सर्वश्रेष्ठ क्षमता से उसमें योगदान देना चाहता हूं।’
साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में बुमराह उप कप्तान की भूमिका निभाएंगे और उन्होंने कहा कि जिम्मेदारी लेना और टीम के साथियों की मदद करना उनका स्वाभाविक गुण है।
बुमराह ने कहा, ‘मैं इस स्थिति को उसी तरह से देखता हूं। जिम्मेदारी लेना और खिलाड़ियों से बात करना और उनकी मदद करना हमेशा से मेरा दृष्टिकोण रहा है और स्थिति कैसी भी हो यह हमेशा मेरा दृष्टिकोण रहेगा।’
बुमराह ने इसके साथ ही कहा कि कोहली ने अपने साथी खिलाड़ियों को टीम बैठक के दौरान कप्तानी छोड़ने के फैसले के बारे में बता दिया था और टीम उनके फैसले का सम्मान करती है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *