नए गैजेट और नए माहौल के Etiquette फॉलो करना भी जरूरी

जब आप बड़े होते हैं तो नई चीजें सीखते हैं। दूसरों को देखकर नए तौर-तरीके और Etiquette सीखते हैं और उनको अपनाते हैं लेकिन कभी-कभी ऐसा होता है कि आप ध्यान भी नहीं देते और अनजाने में सामने वाले को बुरा लग जाता है इसलिए जरूरी है कि आप हमेशा तौर-तरीकों का ध्यान रखें। यहां हैं कुछ गलतियां जो लोगों से अनजाने में हो जाती हैं।
कॉल, मेसेज और ईमेल का जवाब न देना
यह बेहद जरूरी Etiquette है, जिस पर अगर आपने अभी तक काम नहीं किया तो कर लेना चाहिए। आप भले ही मिसकॉल्स और चैट मेसेज नोटिफिकेशन को इग्नोर करते रहते हैं लेकिन जब आप अपने जीवन में बिजी होते हैं तो भूल जाते हैं कि जिन लोगों को आपने जवाब नहीं दिया वे आपकी केयर करते हैं। इस आदत को बदल लें कोशिश करें हर मेसेज और मेल का जवाब दें।
कोई जरूरी बात मेसेज पर डिसकस करना
मेसेज करना या ईमेल करना आसान काम होता है लेकिन आपको समझना होगा कि सब-कुछ मेसेज पर नहीं कहना चाहिए। कुछ चीजें इतनी इम्पॉर्टेंट होती हैं कि उन्हें फेस टु फेस कहा जाना चाहिए, खासतौर पर अगर कोई सेंसिटिव या लाइफ चेंजिंग टॉपिक हो। वहीं ऑफिस के केस में अगर पहुंचना संभव न हो और छुट्टी लेनी हो तो बात और मेल करें, मेसेज से छुट्टी न लें।
मोबाइल पर बात करते वक्त ये सब भी ध्यान दें
जब आपसे कोई बात कर रहा हो तो मोबाइल स्क्रॉल न करते रहें, सामने वाले को अवॉइडेड फील हो सकता है। वहीं ड्राइविंग के वक्त, खाने की टेबल पर और बिस्तर पर खासतौर पर मोबाइल न ले जाएं। इसके अलावा मीटिंग के दौरान भी फोन साइलंट रखें और मेसेज भी न करें।
किसी के घर जाकर गंदगी फैला देना
भले ही आपकी दोस्त का घर आपको अपने जैसा लगे लेकिन उसके पहले से ज्यादा गंदा करके मत आ जाएं बल्कि आपको इसे थोड़ा अच्छी कंडिशन में करके आना चाहिए। आपके किसी के भी घर गेस्ट बनकर जाएं बेहतर होगा साफ-सफाई से रहें और चीजें इधर से उधर बिखेरें नहीं।
रेस्ट्रॉन्ट में न करें ये गलतियां
रेस्ट्रॉन्ट में वेटर को कभी भी आवाज देकर न बुलाएं बल्कि उनसे आई कॉन्टैक्ट बनाने की कोशिश करें और इशारे से पास बुला लें। अगर वेटर न देख पाए तो हाथ से इशारा करके पास बुलाएं। स्टाफ से हमेशा तमीज से बात करें और सबसे जरूरी खाना खत्म होने के 15 मिनट के अंदर टेबल छोड़ दें।
किसी को इग्नोर करना
अगर आप अपने दोस्तों के ग्रुप में हैं और कोई नया है तो बात करते वक्त ध्यान रखें कि ऐसी बातें करें कि उसे भी समझ में आएं। उसे अलग-थलग नहीं फील करना चाहिए। अगर आपके साथ कोई ऐसा है जो आपके दोस्तों के लिए नया है तो उसका परिचय जरूर करवाएं।
आई कॉन्टैक्ट न बनाना
अगर आप बात करते वक्त किसी से आई कॉन्टैक्ट नहीं बनाते तो उसे फील हो सकता है कि आपको उसमें इंट्रेस्ट नहीं है। बात करते वक्त हमेशा आई कॉन्टैक्ट बनाकर रखें।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *