अवैध खनन मामले में ईडी द्वारा गायत्री प्रजापति से पूछताछ

लखनऊ। अवैध खनन मामले में प्रवर्तन निदेशालय की टीम आरोपी पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति से पूछताछ कर रही है। केजीएमयू के सीएमएस कार्यालय में उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच प्राइवेट वार्ड में लाया गया है। जहां पुलिस व ईडी के तमाम अफसरों की मौजूदगी में पूछताछ जारी है।
गायत्री प्रजापति केजीएमयू के यूरोलॉजी विभाग में पिछले करीब डेढ़ माह से भर्ती हैं। डॉक्टरों का कहना है कि उनकी दोनों किडनी खराब हैं और पेशाब संबंधी दिक्कतें हैं। ईडी की टीम ने उनसे क्या पूछताछ की अब तक पता नहीं चल सका है।
बता दें कि सपा सरकार के दौरान नियमों का उल्लंघन करते हुए 22 खनन पट्टों के आवंटन पत्रावली पर अनुमोदन किया गया था। इसमें से 14 खनन पट्टों के आवंटन की पत्रावली पर अनुमोदन अखिलेश यादव ने बतौर खनन मंत्री किया था। अन्य आठ मामलों में बतौर तत्कालीन खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति ने अनुमोदन किया था।
साल के शुरुआत में सीबीआई ने हमीरपुर में हुए खनन घोटाले में केस दर्ज करते हुए हमीरपुर में जिलाधिकारी रहीं बी चंद्रकला समेत 11 लोगों को नामजद किया था। साथ ही 12 स्थानों पर छापेमारी कर कई अहम दस्तावेज बरामद किए गए थे। सीबीआई की एफआईआर के बाद उसी आधार पर प्रवर्तन निदेशालय ने भी केस दर्ज किया था।
जांच के दौरान ईडी ने गायत्री की संपत्तियों का ब्योरा जुटाया था, इसमें उनकी संपत्ति कुछ वर्षों में ही कई गुना बढ़ने की बात सामने आई थी। इसके बाद गायत्री से पूछताछ के लिए ईडी ने कोर्ट में अर्जी लगाई थी। गायत्री से पूछताछ के बाबत जेल अधिकारियों को भी सूचित कर दिया गया है।
गायत्री के करीबी भी जांच के दायरे में
सूत्रों का कहना है कि ईडी न सिर्फ गायत्री बल्कि उसके करीबियों पर भी शिकंजा कसेगा। दावा तो यह भी किया जा रहा है कि ईडी गायत्री के करीबी रहे लोगों की कुंडली खंगाल रहा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *