धीरे-धीरे काफी फेमस होता जा रहा है इंडोर गार्डन का ट्रेंड

अब वो समय गया जब घर के बाहर आउटडोर में गार्डन हुआ करते थे। अब तो गार्डन ने हमारे अपार्टमेंट के अंदर ही जगह बना ली है। इंडोर गार्डन का यह ट्रेंड धीरे-धीरे काफी फेमस होता जा रहा है। ऐसे में अगर आपके घर में भी बालकनी की सुविधा उपलब्ध नहीं है तो निराश होने की जरूरत नहीं। आप चाहें तो कई तरीकों से अपने घर के अंदर ही एक छोटा सा गार्डन बना सकते हैं। अपनी जरूरत और घर के अंदर कितनी जगह मौजूद है इसे देखते हुए गार्डन बनाने का विचार करें।
वर्टिकल या लंबा गार्डन
इस तरह के गार्डन में पौधों को पैनल्स में लगाया जाता है और ये पैनल्स घर के अंदर या घर के बाहर की दीवारों पर लगे होते हैं। इसके अलावा बाजार में हरी दीवारों के गतिशील ढांचे भी मिलते हैं जिसे किसी भी हार्ड सरफेस पर आसानी से स्लाइड किया जा सकता है। आप चाहें तो इन गतिशील ढांचों को किसी दीवार के सहारे या फिर कमरे के बीचों बीच रख सकते हैं। इन हरी दीवारों को इंस्टॉल करना और मेनटेन रखना दोनों ही बेहद आसान है।
इंडोर गार्डन
आजकल ज्यादातर लोग घर के अंदर यानी इंडोर सेटिंग में ही गार्डन बनाना पसंद करते हैं। इंडोर गार्डन में आप अपनी पसंद के हिसाब से कई तरह से एक्सपेरिमेंट कर सकते हैं। अगर आपके पास थोड़ी ज्यादा जगह है तो आप अपने इंडोर गार्डन में झूला, फव्वारा, लाइट, पत्थर की फ्लोरिंग आदि कई चीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं।
मेडिटेरेनियन या आभ्यंतरिक गार्डन
अगर आप अपने घर के आंगन के किसी हिस्से को हाइलाइट करना चाहते हैं तो इस तरह का गार्डन आपके लिए परफेक्ट चॉइस है। मेडिटेरियन स्टाइल गार्डन बनाने के लिए सबसे पहले टेरेकोटा के पॉट्स यानी गमलों से शुरूआत करें। आप चाहें तो छोटे पौधे, झाड़ी, साइट्रस प्लांट्स, हर्ब्स और फूल पत्तियों से शुरूआत कर सकते हैं।
कंटेनर गार्डन
इन दिनों तो गार्डन में कंटेनर्स को भी पॉट्स के तौर पर रीसाइकल किया जा रहा है। पॉट के साइज के हिसाब से अब अलग-अलग तरह के पौधे और जड़ी बूटियों को भी घर पर आसानी से उगा सकते हैं।
-एजेंसी