बॉलिवुड फिल्‍मों का भी प्रिय विषय रहा है इंदिरा गांधी की ‘इमर्जेंसी’

मुंबई। 25 जून 1975 को तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में आपातकाल (इमर्जेंसी) घोषित कर दिया। इमरजेंसी के हालात पर बॉलिवुड में कई फिल्में बन चुकी हैं। आइए, आपको ऐसी ही फिल्मों के बारे में बताते हैं जो इमरजेंसी पर बेस्ड हैं।
बॉलिवुड में सिर्फ रोमांस और मसाला ही नहीं, कई सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर भी समय-समय पर बेहतरीन फिल्में बनती रही हैं। बॉलिवुड और राजनीति का भी पुराना नाता रहा है। महत्वपूर्ण राजनीतिक घटनाओं पर बॉलिवुड में कई फिल्में बनी हैं। इमर्जेंसी भी ऐसी ही घटनाओं में से एक है जिसे फिल्ममेकर्स ने समय-समय पर पर्दे पर उतारा है।
इंदू सरकार
मधुर भंडारकर की यह फिल्म भारत में इमर्जेंसी के समय पर बेस्ड है। फिल्म में 1975 से 1977 तक 19 महीने में देश की स्थिति को दिखाया गया है। रिलीज से पहले इस फिल्म को विरोध का सामना करना पड़ा था।
बादशाहो
अजय देवगन, इलियाना डीक्रूज, इमरान हाशमी, विद्युत जामवाल, ईशा गुप्ता और संजय मिश्रा स्टारर बादशहाो 2017 की सबसे लोकप्रिय फिल्मों में से एक है। इस फिल्म का प्लॉट भी इमर्जेंसी पर ही आधारित है।
हजारों ख्वाहिशें ऐसी
के के मेनन, चित्रांगदा सिंह और शाइनी आहूजा स्टारर इस फिल्म को सुधीर मिश्रा ने डायरेक्ट किया था। हजारों ख्वाहिशें ऐसी का बैकग्राउंड भी देश में लगी इमर्जेंसी है। फिल्म तीन युवाओं की कहानी पर आधारित है जिनकी जिंदगी राजानीतिक और सामाजिक बदलावों के बीच घिरी है।
शबाना आजमी स्टारर ‘किस्सा कुर्सी का’ आपातकाल की परिस्थितियों को कॉमिडी के रूप में दिखाती हुई फिल्म है। यह फिल्म 1978 में रिलीज हुई थी।
नसबंदी
इमर्जेंसी का दौर सरकार द्वारा अनिवार्य किए गए नसबंदी के कारण भी याद किया जाता है। 1978 में आई इस फिल्म में व्यंग्य के रूप में इस मुद्दे को दिखाया गया था।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »