संयुक्त राष्ट्र में बिलावल भुट्टो पर भारत का तीखा पलटवार, कश्‍मीर पर की थी टिप्पणी

भारत ने शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर पर अनुचित टिप्पणी करने के लिए पाकिस्तान को फटकार लगाई, कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में उसके विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी द्वारा की गई टिप्पणी एक हताशा में दी गई प्रतिक्रिया है जिसका उद्देश्य किसी भी मंच और हर विषय का दुरुपयोग करने के लिए झूठे और दुर्भावनापूर्ण प्रचार का प्रचार करना है।
कश्मीर हमारा था, है और रहेगा: भारत
संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के काउंसलर राजेश परिहार ने कहा कि जम्मू और कश्मीर और लद्दाख के केंद्र शासित प्रदेश हमेशा भारत का अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा थे, हैं और रहेंगे। इसमें वे इलाके भी शामिल हैं जो पाकिस्तान के अवैध कब्जे में हैं। परिहार ने कहा कि किसी भी देश की ओर से कोई भी बयानबाजी और दुष्प्रचार इस तथ्य को नकार नहीं सकता।
बिलावल ने क्या कहा था
पाकिस्तान के नए विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी ने संयुक्त राष्ट्र में एक बार फिर से कश्मीर को लेकर भारत के खिलाफ जहर उगला है। बिलावल ने भारत पर कई गंभीर आरोप लगाए। बिलावल ने भारत के खिलाफ नाराजगी जताते हुए कहा कि भारत ने कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर बहुत बड़ी गलती की है और संयुक्त राष्ट्र प्रस्तावना का उल्लंघन किया है। भारत ने कश्मीरी लोगों का उत्पीड़न किया है और निर्दोष लोगों के खिलाफ अत्याचार किया है। बिलावल ने कहा कि पांच अगस्त 2019 के भारत सरकार के फैसले संयुक्त राष्ट्र के कानून का घोर उल्लंघन था। भारत द्वारा कश्मीर को लेकर परिसीमन आयोग की सिफारिशों जैसे कदम सिर्फ कश्मीर के लोगों पर ही नहीं बल्कि संयुक्त राष्ट्र, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद, उसकी प्रस्तावना और चौथे जिनेवा कन्वेंशन पर भी हमला है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *