भारतीय Navy में शामिल होंगे 56 जंगी जहाज और पनडुब्बियां: एडमिरल सुनील लांबा

नई दिल्‍ली। भारतीय Navy प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने सोमवार को कहा कि Navy अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए 56 जंगी जहाजों और पनडुब्बियों को शामिल करने की योजना बना रही है और एक तीसरा विमानवाहक पोत लाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उन्होंने देश को यकीन दिलाया कि Navy भारत के समुद्री इलाकों में दिन-रात निगरानी कर रही है।
एडमिरल लांबा ने अपनी सालाना प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘नौसेना अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए 56 जंगी जहाजों और पनडुब्बियों को शामिल करने की योजना बना रही है। यह निर्माणाधीन 32 जंगी जहाजों के अतिरिक्त होंगे।’ उन्होंने कहा कि तटीय सुरक्षा बढ़ाने के प्रयासों के तहत मछली पकड़ने वाली तकरीबन ढाई लाख नौकाओं पर स्वत: पहचान करने वाले ट्रांसपोर्डर लगाने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। लांबा ने कहा कि तीसरे विमानवाहक पोत को शामिल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।
पांच ऑफशोर गश्ती वाहनों के लिए रिलायंस नेवल इंजिनियरिंग लिमिटेड को दिए गए अनुबंध के बारे में एडमिरल लांबा ने कहा, ‘हम अनुबंध पर गौर कर रहे हैं। करार के लिए बैंक गारंटी भुना ली गई है।’ सेशल्स के एजम्पशन द्वीप पर एक अड्डा बनाने के प्रस्ताव की मौजूदा स्थिति के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इसके लिए सेशल्स की सरकार से बातचीत चल रही है। नौसेना प्रमुख ने कहा कि मालदीव में अब भारत के प्रति बेहतर रवैया रखने वाली सरकार बन जाने पर दोनों देश समुद्री सहयोग बढ़ा सकेंगे।
अदन की खाड़ी में समुद्री डाकुओं को खदेड़ा
नेवी चीफ सुनील लांबा ने कहा कि भारतीय नौसेना अदन की खाड़ी से समुद्री डाकुओं के खिलाफ अभियान को प्रतिबद्ध है। नौसेना अंतर्राष्ट्रीय तरीकों से इससे निपट रही है। 2008 से 70 भारतीय जंगी जहाजों की मदद से 3,440 से ज्यादा जहाजों और उसमें सवार 25 हजार सवारों को सुरक्षित किया गया।
अंडमान में अमेरिकी टूरिस्ट चाउ की मौत पर भी बोले लांबा
अंडमान-निकोबार में अमेरिकी टूरिस्ट जॉन एलन चाउ की मौत के सवाल पर लांबा ने कहा, ‘मैं नहीं समझता कि यह तटीय सुरक्षा की असफलता थी। वह अंडमान-निकोबार में एक टूरिस्ट के तौर पर आए थे और उनके पास वहां ठहरने का इजाजत थी। मामले की जांच पुलिस कर रही है।
कुलभूषण जाधव के परिवार के संपर्क में: लांबा
पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘हम जाधव के परिवार के संपर्क में हैं और उन्हें हर प्रकार की सहायता प्रदान कर रहे हैं।’ लांबा ने कहा कि अब सभी नए जहाज महिला अफसरों के रहने की व्यवस्था के साथ बन रहे हैं। हालांकि विक्रमादित्य जैसे जहाज हैं जिसमें इस तरह की व्यवस्था है। अब भविष्य के जितने भी जहाज बनेंगे वे महिला अधिकारियों के रहने की व्यवस्था से लैस होंगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *