Indian Army रोजाना 5 से 6 आतंकियों को मौत के घाट उतारती है: राजनाथ

नई दिल्‍ली। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बेंगलूरू में कहा कि Indian Army रोजाना 5 से 6 आतंकियों को मौत के घाट उतारती है। इतना ही नहीं पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन करने और बॉर्डर से घुसपैठ की कोशिशों का भी मुंहतोड़ जवाब दिया जाता है।

राजनाथ ने कहा कि भारतीय सैनिक तब ही फायरिंग करते हैं, जब पाकिस्तान की ओर से ओपन फायर की नापाक हरकत की जाती है। सैनिकों को पाकिस्तान पर आगे से फायरिंग के लिए मना किया गया है, लेकिन अगर पाक की ओर से ओपन फायर होता है, तो वे इसका मुंहतोड़ जवाब देंगे।

वहीं चीन मुद्दे पर राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत अब कमजोर देशों की लिस्ट में नहीं है। भारत अब उस मजबूत स्थिति में है कि अपने मुद्दों को बखूबी सुलझा सकता है।

साइबर आतंकवाद एक और गंभीर खतरा : राजनाथ

Rajnath Singh pinning the rank on a CISF personnel, on the occasion of Passing Out Parade
Indian Army रोजाना 5 से 6 आतंकियों को मौत के घाट उतारती है

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज साइबर आतंकवाद को एक और गंभीर आतंकवादी खतरा बताते हुए कहा कि इससे निपटने के लिए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) में विशेष इकाई का गठन किया जाएगा।
श्री सिंह ने कहा कि साइबर आतंकवाद से आज दुनिया के कई देश जूझ रहे हैं।
उन्होंने कहा कि इससे निपटने के लिए सीआईएसएफ में विशेष इकाई का गठन किया जाएगा जो नियमित ऑडिट और क्षमता बढ़ाने का काम करेगी।
-एजेंसी