सेना की बड़ी कार्यवाही, पाक में मौजूद आतंकियों के कई Launching pad तबाह

नई द‍िल्ली। कुपवाड़ा व मेंढर में नियंत्रण रेखा पर कृष्णा घाटी और मनकोट सेक्टर में गुरुवार को पाकिस्तानी सेना की नापाक हरकत का भारत ने करारा जवाब दिया है। तत्तापानी व कुपवाड़ा सेक्टर में आतंकियों के कई launching pad तबाह कर दिए हैं। कुपवाड़ा सेक्टर के सामने अथमुक्कम के सामने स्थित पाकिस्तानी ब्रिगेड मुख्यालय, एसएसजी केंद्र को भी भारी नुकसान पहुंचा है।

Indian army destroyed many launching pads of terrorists in Pak
Indian army destroyed many launching pads of terrorists in Pak

इस कार्रवाई में कई पाकिस्तानी सैनिक व आतंकी मारे गए हैं। सेना को सूचना मिली थी कि लश्कर व जैश के आतंकी यहां एकत्र होकर घुसपैठ की योजना बना रहे थे। हालांकि इस नुकसान की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।

मेंढर में नियंत्रण रेखा पर कृष्णा घाटी और मनकोट सेक्टर में पाकिस्तानी सेना की नापाक हरकत का भारत ने करारा जवाब दिया है। पाकिस्तान की गोलाबारी के बाद सेना की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तानी कब्जे वाले (पीओके) तत्तापानी क्षेत्र में पाकिस्तानी सेना को भारी नुकसान पहुंचा है। इसके बाद पाकिस्तानी सेना ने तत्तापानी क्षेत्र में आम लोगों की आवाजाही दिन भर के लिए बंद कर दी।

तीन दिन बाद गुरुवार को पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। सुबह करीब सवा सात बजे पाकिस्तानी सेना ने दबराज, नाड़मनकोट, चोई मनकोट, बलनोई और घानी आदि में सेना की चौकियों के साथ ही रिहायशी इलाकों को निशाना बना कर मोर्टार दागने शुरू कर दिए। इससे क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया। लोग घरों में बंद हो गए।

पकिस्तान ने करीब डेढ़ घंटे मोर्टार बरसाए। इसके बाद भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब देना शुरू किया। इस पर पाकिस्तानी सेना ने गोलाबारी बंद कर दी। सूत्रों के अनुसार सेना की जवाबी कार्रवाई में नियंत्रण रेखा के उस पार स्थित पाकिस्तानी कब्जे वाले तत्तापानी क्षेत्र में पाकिस्तानी सेना को भारी नुकसान पहुंचने की खबर है।

गौरतलब है क‍ि भारी बर्फबारी से घाटी में घुसपैठ के रास्ते बंद होने के बाद पाकिस्तानी सेना, आईएसआई और आतंकी संगठनों के आकाओं ने जम्मू संभाग से घुसपैठ की साजिश रची है। इसी साजिश के तहत एलओसी से लगे पुंछ व राजोरी के रास्ते घुसपैठ कराने की कोशिशें की जा रही हैं। सीमा पार लांचिंग पैड को और सक्रिय कर दिया गया है। आतंकियों को धकेलने के लिए आए दिन कवर फायर देकर अग्रिम चौकियों के साथ ही रिहायशी इलाकों को निशाना बनाने की असल मंशा यही है।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *