ट्रंप के लिए प्रचार करेंगे भारतवंशी अमेरिकी नागरिक, समिति गठित

वॉशिंगटन। भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिकों के एक समूह ने एक राजनीतिक कार्य समिति का गठन किया है जो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए सक्रियता से प्रचार करेगी।
इन लोगों का मानना है कि आतंकवाद को हराने और आव्रजन को नियमित करने समेत कई मौजूदा घरेलू एवं अंतर्राष्ट्रीय स्थितियों के मद्देनजर ट्रंप ही अमेरिका के लिए सबसे बेहतर हैं।
ट्रंप के लिए समर्थन जुटाने के लिए ‘इंडियन अमेरिकंस फॉर ट्रंप’ का गठन
समूह के संस्थापक एडी अमर ने कहा कि ‘इंडियन अमेरिकंस फॉर ट्रंप’ का गठन केवल एक मकसद से किया गया है कि ट्रंप को फिर से राष्ट्रपति बनाने के लिए सभी अमेरिकियों खासकर भारतीय उपमहाद्वीप मूल के अमेरिकियों का समर्थन जुटाया जा सके। समूह की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया कि ट्रंप का पहला कार्यकाल अमेरिकी अर्थव्यवस्था को ऊपर उठाने, वैश्विक मंच पर अमेरिका की सकारात्मक छवि बनाने, आतंकवाद को हराने, आव्रजन को नियमित करने और ताकत से शांति स्थापित करने पर केंद्रित रहा है।
अमेरिका को अग्रसर रखने के लिए ट्रंप ही बेहतर हैं
इसके अलावा समिति के सदस्यों का यह भी मानना है कि अगले चार साल के लिए अमेरिका को इस राह पर अग्रसर रखने के लिए ट्रंप ही बेहतर हैं। यह दूसरी बार है जब अमर ने ट्रंप के समर्थन के लिए किसी राजनीतिक कार्य समिति का गठन किया है। उन्होंने 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में भी ‘इंडियन अमेरिकंस फॉर ट्रंप’ समूह का गठन किया था और इसकी अगुआई की थी।
बिडेन ने भारतवंशी को डिजिटल चीफ ऑफ स्टाफ नामित किया
डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने अपने डिजिटल चीफ ऑफ स्टाफ के तौर पर भारतीय मूल की मेधा राज को नामित किया है। यह पद उनके चुनाव अभियान में बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि कोरोना महामारी के चलते यह पूरी तरह डिजिटल रूप में ही चलाया जा रहा है।
भारतीय मूल की मेधा ने कहा, चुनाव में 130 दिन बचे हैं और हम एक मिनट भी बर्बाद नहीं करेंगे
बिडेन की प्रचार अभियान टीम ने कहा कि मेधा डिजिटल विभाग के सभी पहलुओं पर काम करेंगी और डिजिटल परिणामों के प्रभाव को अधिक से अधिक कारगर बनाने के लिए समन्वय करेंगी। मेधा ने लिंक्डइन पर कहा, ‘यह साझा करते हुए उत्साहित हूं कि मैं जो बिडेन के अभियान में बतौर डिजिटल चीफ ऑफ स्टाफ शामिल हुई हूं। चुनाव में 130 दिन बचे हैं और हम एक मिनट भी बर्बाद नहीं करेंगे।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *