2025 तक दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी इकॉनमी होगा भारत: सीईबीआर

नई दिल्ली। भारत 2025 तक दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी इकॉनमी और 2030 तक तीसरी सबसे बड़ी इकॉनमी बन जाएगा। सेंटर ऑफ इकनॉमिक्स एंड बिजनस रिसर्च (सीईबीआर) की एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है। भारत 2019 में ब्रिटेन को पीछे छोड़कर दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी इकॉनमी बन गया था लेकिन 2020 में वह फिर से छठे स्थान पर फिसल गया।
रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना महामारी और रुपये की कमजोरी के कारण छठे स्थान पर खिसक गया है। इस साल ब्रिटेन ने उसे पीछे छोड़ दिया। भारत 2025 में फिर से ब्रिटेन से आगे निकल जाएगा। सीईबीआर के मुताबिक भारतीय इकॉनमी 2021 में नौ फीसदी और 2022 में 7 फीसदी बढ़ेगी। आर्थिक रूप से ज्यादा संपन्न होने के बाद स्वाभाविक रूप से भारत की रफ्तार धीमी होगी और 2035 में जीडीपी ग्रोथ 5.8 फीसदी रह जाएगी। इस दौरान भारत 2030 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी इकॉनमी बन जाएगा। वह 2025 में ब्रिटेन, 2027 में जर्मनी और 2030 में जापान को पीछे छोड़ देगा।
चीन होगा टॉप पर
रिपोर्ट के मुताबिक चीन साल 2028 में अमेरिका को पछाड़कर दुनिया की सबसे बड़ी इकॉनमी बन जाएगा। पहले माना जा रहा था कि चीन 2033 तक इस मुकाम पर पहुंचेगा लेकिन कोविड-19 महामारी ने स्थिति को बदल दिया है। चीन तेजी से इस संकट से बाहर निकल गया जबकि अमेरिकी इकॉनमी अब भी संघर्ष कर रही है। यही वजह है कि चीन अनुमान से 5 साल पहले ही अमेरिका से आगे निकल जाएगा।
रिपोर्ट के मुताबिक पिछले कुछ समय से अमेरिका और चीन के बीच इकनॉमिक और सॉफ्ट पावर संघर्ष चल रहा है। कोविड-19 महामारी ने इसे चीन के पक्ष में मोड़ दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने शुरुआत में ही लॉकडाउन लगाकर महामारी से निपटने में बेहद कुशलता दिखाई जबकि अमेरिका को अब भी संघर्ष करना पड़ रहा है। चीन की इकॉनमी के 2021-25 के दौरान 5.7 फीसदी की रफ्तार से बढ़ने की उम्मीद है। उसके बाद उसकी रफ्तार थोड़ी धीमी पड़ेगी। 2026 से 2030 के दौरान यह 4.5 फीसदी रह सकती है।
दूसरी ओर अमेरिका की इकॉनमी के लंबे समय तक इससे प्रभावित रहने की आशंका है। 2022 से 2024 के बीच देश की आर्थिक रफ्तार 1.9 फीसदी रहने का अनुमान है। उसके बाद यह 1.6 फीसदी की रफ्तार से बढ़ेगी। जापान 2030 के दशक की शुरुआत तक डॉलर टर्म में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी इकॉनमी बना रहेगा। उसके बाद भारत उससे आगे निकल जाएगा। जर्मनी चौथे से पांचवें नंबर पर खिसक जाएगा। अभी पांचवें नंबर पर मौजूद ब्रिटेन 2024 में छठे स्थान पर खिसक जाएगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *