भारत ने पीछा करके मार गिराया पाकिस्‍तान का F-16 लड़ाकू विमान

नई दिल्ली। भारत की एयर स्ट्राइक के बाद से बौखलाए पाकिस्तान ने आज भारतीय वायु सीमा क्षेत्र का उल्लंघन किया। पाक के भेजे F-16 विमानों को भारत ने पीछा कर मार गिराया। लाम घाटी क्षेत्र में विमान से पैराशूट का प्रयोग होते देखा गया है, लेकिन अभी तक इसके पायलट के बारे में जानकारी नहीं मिली है।
पुलवामा हमले पर भारत की जवाबी एयर स्ट्राइक कार्यवाही के बाद से पाकिस्तान में बौखलाहट का माहौल है। आज सुबह पाक का F-16 विमान नौशेरा सेक्टर में घुसा और लौटने के क्रम में बम गिराए। जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में दाखिल F-16 को भारत ने जाते हुए मार गिराया। भारतीय वायुसेना के जवाबी प्रहार से यह F-16 3 किलोमीटर पाकिस्तानी क्षेत्र लाम वैली में गिरा। अब तक मिली जानकारी के अनुसार विमान से पैराशूट का प्रयोग होते देखा गया है, लेकिन पायलट की स्थिति को लेकर स्पष्ट नहीं है।
पहले 2 लड़ाकू विमान के भारतीय सीमा क्षेत्र में प्रवेश करने और इन्हें भगाने की खबर थी। अब ताजा जानकारी के अनुसार भारत की जवाबी कार्यवाही में पाक का F-16 पर मारक हमला किया गया। इसमें सवार पायलट की स्थिति के बारे में अब तक जानकारी नहीं है। पुलवामा हमले के बाद हुई भारत की जवाबी कार्यवाही से पाकिस्तान में इस वक्त बहुत तनाव का माहौल है। पाक विदेश मंत्री और अन्य सांसदों ने मंगलवार को ही बदले की बात कही थी।
इस बीच दिल्ली में सुरक्षा को लेकर गृह मंत्रालय ने अहम बैठक की। गृहमंत्री राजनाथ सिंह की बुलाई उच्चस्तरीय मीटिंग में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी शामिल हुए। हाई लेवल मीटिंग में देश की आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चर्चा की गई।
पाकिस्तान की तरफ से एयर स्ट्राइक के बाद से ही जवाबी कार्यवाही की धमकी दी जा रही है। हालांकि, भारतीय सेना भी पूरी तरह से मुस्तैद है और हाई अलर्ट पर है। दिल्ली मुंबई समेत कई शहरों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। एयर स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तानी मीडिया और संसद में जमकर बवाल हो रहा है। पाकिस्तानी सासंदों ने मंगलवार को जवाबी हमले की मांग भी की थी।
हालांकि, पाक के लड़ाकू विमानों को तत्काल ही भारतीय वायुसेना ने क्षेत्र से भगा दिया। सीमावर्ती क्षेत्रों लेह, जम्मू, श्रीनगर और पठानकोट एयरपोर्ट को हाई अलर्ट पर रखा गया है। एयरस्पेस पर हाई अलर्ट और सुरक्षा कारणों से कई फ्लाइट्स होल्ड पर रखी गई हैं। सभी सीमावर्ती इलाकों के साथ महत्वपूर्ण सैन्य बेस पर भी खासी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »