Gyandeep में ल‍िया देश की सुरक्षा व बहनों की रक्षा का संकल्प

मथुरा। गोवर्धन रोड स्थित Gyandeep शिक्षा भारती में सरसराती हवा और लटकन बेल के गुलाबी – सफेद फूलों के प्राकृतिक सौन्दर्य में नन्हे – मुन्ने छात्र कार्तिक, अविक तथा चित्रांष द्वारा ध्वजारोहण के पश्चात् फहर-फहराते राष्ट्र ध्वज और लहर-लहर लहराते तिरंगे झन्डों के सानिध्य में छात्र-छात्राओं, श‍िक्षक-श‍िक्षिकाओं तथा उपस्थित जनों ने देष की सुरक्षा और बहनों की रक्षा का संकल्प लिया।
कार्यक्रम का शुभारंभ  ‘विजयी विश्व तिरंगा प्यारा‘ समूह गीत से हुआ। छात्र आयुष्मान ने संस्कृत श्लोक में गणेश वन्दना प्रस्तुत की। अनुश्री चतुर्वेदी ने स्वतंत्रता दिवस के इतिहास के परिप्रेक्ष्य में राष्ट्र-भक्ति का आह्वान किया। भूमिका, प्राची, प्रतिमा, अंजलि, लकी, ने अपने भाई धैर्य कुमार, निश‍ान्त, गोविन्द, रोहित तथा आदित्य राज को तिलक कर राखी बाँधीं। अभिमता श‍ुुक्ला ने समस्त छात्राओं की ओर से ‘भैया जी‘ के नाम से प्रसिद्ध मोहन स्वरूप भाटिया को राखी बाँधी।
ज्ञानदीप की प्राचार्या श्रीमती रजनी नौटियाल तथा न‍िदेशक श्रीमती प्रीति भाटिया ने कहा कि देश‍ की बदली हुई स्थितियों में प्रत्येक विद्यार्थी को राष्ट्र  के प्रति सजग प्रहरी और समर्पण की भावना से संकल्पित रहना है।
निवर्तमान सहायक न‍िदेषक डा0 एस0 पी0 गोस्वामी ने कहा कि उनकी पुत्री ने ज्ञानदीप के प्रारम्भिक काल में श‍िक्षा प्राप्त की है और उसके आधार पर मैं कह सकता हूँ कि ज्ञानदीप ने श‍िक्षा के क्षेत्र में इतिहास रचा है।

अन्त में Gyandeep के संस्थापक सचिव पद्मश्री मोहन स्वरूप भाटिया ने आह्वान किया कि भारतीय संस्कृति और नैतिक सिद्धान्तों के अनुसरण से ही राष्ट्र की प्रगति के प्रति निवान रहने की आवष्यकता है।
सांस्कृतिक कार्यक्रमों का निर्देशन  श्रीमती दीपाली वर्मा ने किया। सहयोगी थे संदीप कुलश्रेष्ठ।
अन्त में प्रशासन‍िक अधिकारी आषीश भाटिया ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *