JBM ग्रुप के 50 से अधिक ठिकानों पर आयकर के छापे, 7 करोड़ नकद और तीन किलो आभूषण बरामद

नई दिल्ली। ऑटोमोबाइल स्‍पेयर पार्ट बनाने वाली कंपनी जय भारत मारुति ग्रुप JBM के दिल्ली-एनसीआर में 50 से अधिक ठिकानों पर आयकर विभाग की छापे की कार्यवाही आज भी जारी रही। गुरुवार से जारी इस कार्यवाही में अब तक विभिन्न स्थानों पर छुपा कर रखे गए सात करोड़ रुपए नकद और एक शौचालय में छुपा कर रखे गए सोने-चांदी के तीन किलोग्राम से अधिक आभूषण बरामद किए जा चुके हैं।
शौचालय में छुपा कर रखा था सोना
विभाग के सूत्रों के अनुसार, कंपनी के राजधानी दिल्ली-एनसीआर में 50 ठिकानों पर अब तक छापेमारी की कार्यवाही जारी है। गुरुवार को यह कार्यवाही शुरू की गई थी। दिल्ली के साथ ही गुड़गांव, फरीदाबाद और गाजियाबाद में कार्रवाई की गई है। सूत्रों ने कहा कि इस दौरान कई स्थानों पर छुपा कर रखे गए सात करोड़ रुपये से अधिक की राशि बरामद की गयी है। इसी तरह से एक शौचालय से सोने और चांदी के तीन किलोग्राम से अधिक आभूषण भी बरामद किए गए हैं।
संदिग्ध लेनदेन वाली कंपनियों पर पैनी नजर
जय भारत मारुति ग्रुप वाहनों के स्‍पेयर पार्ट बनाती है और कार बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड तथा भारी व्यवसायिक वाहन बनाने वाली अशोक लेलैंड जैसी कंपनियों को स्‍पेयर पार्ट की आपूर्ति करती है। कालेधन के खिलाफ सरकार की मुहिम के तहत आयकर विभाग उन कंपनियों पर पैनी नजर रख रही है, जिनके संदिग्ध लेनदेन में शामिल होने की आशंका है। पिछले कुछ समय से इसे लेकर मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल तमाम फर्जी कंपनियों पर भी शिकंजा कसा गया है।
-एजेंसी