इमरान के चहेते मौलाना ने कहा, पाकिस्‍तान में बढ़ते बलात्‍कारों का कारण को-एजुकेशन

इस्‍लामाबाद। पाकिस्तान में बढ़ते बलात्कार की घटनाओं के बाद इमरान खान सरकार पर सख्त कानून लाने का दबाव बढ़ता जा रहा है। कुछ दिनों पहले लाहौर में एक फ्रांसीसी महिला के साथ हुई गैंगरेप की घटना के बाद पूरे पाकिस्तान में बड़ी संख्या में महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया था।
वहीं, पाकिस्तानी मौलाना बलात्कार की बढ़ती घटनाओं के लिए लड़के-लड़कियों की एकसाथ पढ़ाई (को-एजुकेशन) को जिम्मेदार बता रहे हैं।
पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के चहेते मौलाना तारिक जमील ने भी लड़के-लड़कियों के साथ में पढ़ाई को बलात्कार का असली कारण बताया है। उन्होंने कहा कि अगर आग और पेट्रोल एक साथ रहेंगे तो बलात्कार होते रहेंगे। कॉलेजों में लड़के-लड़कियां इकट्ठे पढ़ते हैं। जब पेट्रोल और आग इकट्ठा होगा तो फिर आग न लगे, यह कैसे संभव है। को-एजुकेशन ने बेहयाई को प्रमोट किया है, इसमें कोई शक नहीं है। मैं खुद कॉलेज लाइफ गुजार के अल्लाह के रास्ते की तरफ आया। उस वक्त में और आज उसको 50 साल गुजर चुके हैं।
पाक में बलात्कारियों को सरेआम फांसी देने की मांग
पाकिस्तान में इमरान खान सरकार से बलात्कार के दोषियों को सरेआम फांसी देने की मांग की जा रही है। इस सजा की कई मुस्लिम संगठनों ने भी मांग की है। इस्लामबाद, मुल्तान, लाहौर, कराची सहित कई शहरों में इमरान खान सरकार के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। कई लोगों ने दोषियों को दूसरे इस्लामिक देशों की तरह नपुंसक बनाने की मांग भी की है।
इमरान का आदेश, बनाया जाए नेशनल रजिस्टर
इमरान खान ने यौन दुव्‍यर्वहार करने वालों का एक नेशनल रजिस्‍टर बनाने का आह्वान किया। पाकिस्‍तानी पीएम ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा कि उन्‍हें लगता है कि बलात्‍कारियों के तत्‍काल रासायनिक बंध्‍याकरण करने की जरूरत है। अगर ऐसा न हो तो कम से कम बलात्‍कारियों का ज‍बरन सर्जरी कराया जाए ताकि वे भविष्‍य में दोबारा यौन अपराध न कर सकें।
‘अपराध करने वालों को ऐसी सजा दी जाए जो दूसरों के लिए सबक हो’
इमरान ने कहा कि रेप और यौन अपराधों को लेकर एक ग्रेडिंग सिस्‍टम बनाया जाए। इसमें सबसे घृणित अपराध करने वाले अपराधी को ऐसा बना दिया जाए ताकि वह इसे दोहरा न सके। उन्‍होंने कहा कि यौन अपराध करने वालों को ऐसी सजा दी जाए जो दूसरों के लिए सबक हो। उन्‍होंने बलात्‍कारियों को सरेआम फांसी देने का भी आह्वान किया। इमरान ने कहा कि प्रशासन के लिए यह संभव नहीं है कि वह यह ठीक-ठीक पता लगा सके कि देश में कितने बलात्‍कार होते हैं।
पाक में विरोध प्रदर्शन जारी
बता दें पाकिस्तान में बच्चों के सामने विदेशी महिला के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना के बाद जबरदस्त विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इस मामले की जांच कर रहे अधिकारी ने पीड़ित महिला को ही इसके लिए जिम्मेदार बता दिया। जिसके बाद से लोगों का गुस्सा और भड़क गया। बताया जा रहा है कि इस मामले में पुलिस ने अबतक 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। लाहौर समेत पाकिस्तान के अधिकतर शहरों में बड़ी संख्या में महिलाएं इस घटना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। कई जगह महिलाओं ने आजादी-आजादी के नारे भी लगाए।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *