कोरोना को गंभीरता से न लेने पर इमरान खान को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, विशेष सलाहकार को हटाने का आदेश

इस्‍लामाबाद। किलर कोरोना वायरस महासंकट को बेहद लापरवाही से संभालने के आरोपों से घिरे पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को सुप्रीम कोर्ट से करारा झटका लगा है। कोरोना संकट पर आज सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने इमरान सरकार की जमकर खिंचाई की। सुप्रीम कोर्ट ने बहस के दौरान पीएम इमरान खान के विशेष सलाहकार जफर मिर्जा को हटाने का आदेश सुना दिया।
जफर मिर्जा ही पाकिस्‍तान में कोरोना संकट का पूरा मामला देख रहे थे। उनके जाने के बाद इमरान खान को तगड़ा झटका लगा है। इस बीच सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद टेंशन में आए पीएम इमरान खान ने कोरोना वायरस की स्थिति समीक्षा को लेकर अपने मंत्रियों की बैठक बुलाई है। उधर, पाकिस्तान में घातक कोरोना वायरस के 334 नए मामले सामने आने के बाद देश में इससे संक्रमित लोगों की संख्या 5,374 हो गई। इस महामारी से संक्रमित सात लोगों के जान गंवाने के बाद मृतकों की संख्या 93 हो गई है।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय ने बताया कि 1,095 लोग पूरी तरह ठीक हो गए हैं लेकिन 44 लोगों की हालत नाजुक है। उसने बताया कि पिछले 24 घंटे में 334 नए मामले सामने आने के बाद वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या सोमवार को 5,374 हो गई। वहीं इस दौरान सात लोगों की जान चली गई, जिससे पाकिस्तान में वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 93 हो गई।
पंजाब में 2,594 और सिंध में 1,411 मामले
मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार पंजाब में 2,594, सिंध में 1,411, ख़ैबर पख़्तूनख़्वा में 744, बलूचिस्तान में 230, गिलगित-बाल्टिस्तान में 224, इस्लामाबाद में 131 और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में कोरोना वायरस के 40 मामले हैं। आंकड़ों के अनुसार अभी तक कुल 65,114 नमूनों की जांच की गई, जिसमें से 3,233 जांच पिछले 24 घंटे में की गई।
पाकिस्तान में तीन से अधिक सप्ताह से जारी लॉकडाउन के बावजूद नए मामलों में बढ़ोतरी हुई है। लॉकडाउन यहां मंगलवार को खत्म हो रहा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान राष्ट्रीय लॉकडाउन को बढ़ाने ना बढ़ाने का निर्णय करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक भी कर रहे हैं। इसके बढ़ने की अधिक आशंका है। स्वास्थ्य मामलों के सलाहकार रहे जफर मिर्जा ने रविवार को कहा था कि लॉकडाउन खत्म करने से मामलों की संख्या बढ़ने की आशंका है।
इमरान ने जिसे सौंपी थी वार्ता की ज‍िम्मेदारी, वह Mask smuggler निकला
कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुलाई गई सार्क वीड‍ियो कांफ्रेंस‍िंग में भी पाक‍िस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने स्वास्थ्य सलाहकार जफर म‍िर्जा को वार्ता की ज‍िम्मेदारी सौंपी थी।
यह वही जफर म‍िर्जा हैं जिन पर 2 करोड़ रुपए मूल्‍य के मास्क की तस्करी करने का आरोप है।
इस्लामाबाद जोन के एफआईए निदेशक को मिर्जा के खिलाफ जांच कर 15 दिन में रिपोर्ट देने के आदेश दिए गए थे। पाकिस्तान यंग फर्मासिस्ट एसोसिएशन के डॉ. फुरकान इब्राहिम ने मिर्जा पर इस तस्करी के आरोप लगाते हुए इसमें देश की ड्रग रेग्युलेट्री अथॉरिटी की भी मिलीभगत बताई थी।
बता दें कि सार्क की वीड‍ियो कांफ्रेंस‍िंग में जफर मिर्जा ने भारत के प्रधानमंत्री मोदी सहित सार्क देशों के प्रतिनिधियों व राष्ट्राध्यक्षों से कोरोना के हालात पर पाक का पक्ष रखा था। अंतर्राष्ट्रीय मंच मिलने पर उसने बदनीयती दर्शाते हुए कश्मीर मामले को भी उठाने का प्रयास किया था जबकि तस्करी में उसकी भूमिका की जांच खुद पाकिस्तान की फेडरल जांच एजेंसी (एफआईए) कर रही है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *