Mixopathy के खिलाफ IMA ने किया भूख हड़ताल का ऐलान

नई दिल्ली। कोरोना वैक्‍सीनेशन के दौरान इंडियन मेडिकल एसोसिएशन IMA ने एक फरवरी 2021 से देशभर में भूख हड़ताल का ऐलान किया है. आईएमए की तरफ से कहा गया है कि डॉक्‍टरों की यह हड़ताल 15 फरवरी तक चलेगी. देश में मिक्‍सोपैथी (Mixopathy) के खिलाफ पहले से ही विरोध जता रहे इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का कहना है कि अब वे हड़ताल पर जाएंगे.
आईएमए के जनरल सेक्रेटरी डॉ. जेएम लेले ने बताया कि वे सेंट्रल काउंसिल ऑफ इंडियन मेडिसिन (CCIM) के उस नोटिफिकेशन के खिलाफ लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं जिसमें आयुर्वेद डॉक्‍टरों को दो सर्जरी विषयों में प्रशिक्षण देने की अनुमति दी गई है. जिसके बाद वे 58 प्रकार की सर्जरी कर सकेंगे. यह पूरी तरह खिचड़ी मेडिसिन है. मिक्‍सोपैथी से किसी को लाभ नहीं होगा बल्कि नुकसान ही होगा.
डॉ. लेले ने कहा कि वे इस नोटिफिकेशन को लेकर सीसीआईएम को भी पत्र लिख चुके हैं. सरकार को भी लिख चुके हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही. आईएमए ने कोर्ट में भी केस फाइल किया है. लेकिन अब सिर्फ भूख हड़ताल ही एक रास्‍ता बचा है. ऐसे में देशभर के मेडिकल छात्र, पोस्‍टग्रेजुएट मेडिकल छात्र, रेजिडेंट डॉक्‍टर और आईएमए के सदस्‍य इस हड़ताल में शामिल होंगे. भारत के 50 अलग-अलग स्‍थानों पर यह हड़ताल की जाएगी.
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *