एक तेज-तर्रार निर्देशक थे ऋषिकेश मुखर्जी

मुंबई। एक तेज-तर्रार निर्देशक ऋषिकेश मुखर्जी का आज जन्मद‍िन है। ऋषिकेश दा ने चुपके-चुपके, अनुपमा, आनंद, अभिमान, गुड्डी, गोलमाल और नमक हराम जैसी यादगार फिल्में बनाईं।

ऋषिकेश दा वो किसी भी एक्टर को शूट किए जाने वाले सीन की जानकारी नहीं देते थे यानि किसी को भी ये नहीं पता होता था कि अगले सीन में उसे क्या रोल मिलने वाला है, बस एक ल‍िस्ट कॉस्ट्यूम एक्टर्स को थमा दी जाती थी। आज उनके जन्म दिवस पर हम उनकी जिंदगी से जुड़ा एक किस्सा आपको बता रहे हैं।

फिल्म ‘चुपके चुपके’ में काम कर रहे अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र को ऋषिदा की इस आदत के बारे में पता नहीं था और इसी की वजह से उन्हें ऐसी डांट पड़ी कि दोनों के मुंह लटक गए। दरअसल एक सीन शूट किया जाना था जिसमें असरानी सेंट्रल कैरेक्टर थे। असरानी को सीन के दौरान सूट पहनने के लिए दिया गया जबकि धर्मेंद्र को एक ड्र्राइवर के कपड़े। अब ये माजरा किसी को समझ नहीं आया। एक तरफ धर्मेंद्र सोच में थे तो वहीं दूसरी तरफ असरानी..जबकि ऋषि दा सेट पर आराम से चेस खेलने में मग्न थे।

जब जिज्ञासा शांत ना हुई तो धर्मेंद्र ने असरानी से पूछ ही लिया, ‘क्यों, मैं तुम्हारा ड्राइवर बना हूं क्या ? क्या चल रहा है ? तुम्हें सूट और मुझे ड्राइवर के कपड़े क्यों? असरानी ने कहा कि पता नहीं। ऋषि दा दोनों की बातें सुन रहे थे और उन्हें ऐसे बतलाते देख ऋषि दा ने धर्मेंद्र को जोर से आवाज लगाई और कहा, ‘ऐ धरम.. असरानी से क्या पूछ रहे हो। सीन के बारे में पूछ रहे हो.. अगर कहानी की इतनी ही समझ होती तो तुम आज हीरो होते। इतना सुनते ही धर्मेंद्र बिल्कुल चुप हो गए।

तब तक अमिताभ बच्चन को धर्मेंद्र के साथ हुए इस वाकये के बारे में जानकारी नहीं थी और उन्होंने भी अपनी जिज्ञासा शांत करने के लिए असरानी से सूट वाला माजरा पूछ ही लिया और कहा, ‘तुम आज सूट में कैसे.. किसका ऑफिस है ये सेट पर?

लेकिन इस बार ऋषि दा ऐसा चिल्लाए कि अमिताभ के होश उड़ गए। अमिताभ बच्चन को डांटते हुए ऋषि दा ने कहा, ‘ऐ अमित तुम क्या पूछ रहे हो सीन या कहानी ? ऐ धरम बताओ अमित को जो मैंने तुमसे कहा। तुम लोगों को अगर इतनी ही समझ होती तो आज तुम लोग फिल्म में हीरो नहीं होते, डायरेक्टर होते। चलो काम पर।’

ऋषि दा की ऐसी बात सुनकर अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र अपना-सा मुंह लेकर चले गए लेकिन ऋषि दा की मेहनता का ही नतीजा था कि ये फिल्म ‘चुपके चुपके’ बाद में क्लासिक हिट बनी।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *