मासूम बच्चे को जीवनदान देने पर डाॅ. अशोक ‘बृज रत्न’ से सम्मानित

मथुरा। कोरोना लाॅकडाउन के चलते जीवन-मौत के बीच संघर्ष कर रहे तीन माह के मासूम गरीब बच्चे की जिन्दगी बचाने वाले डा0 अशोक अग्रवाल को आज विभिन्न सामाजिक संस्थाओं द्वारा ‘‘बृज रत्न’’ की उपाधि से सम्मानित किया गया।
कोरोना लाॅकडाउन के चलते कस्बा राया निवासी चाय विक्रेता प्रदीप अग्रवाल के 3 माह के अबोध बच्चे की हालत चिन्ताजनक होने पर जब शहर के प्रमुख चिकित्सकों ने बच्चे का उपचार करने से साफ इंकार कर दिया था तब सामाजिक कार्यकर्ताओं के आग्रह पर बालरोग विशेषज्ञ डाॅ0 अशोक अग्रवाल द्वारा बच्चे का इलाज कर जीवनदान देने पर विभिन्न सामाजिक संस्थाओं ने अशोक हाॅस्पीटल में संक्षिप्त सम्मान समारोह का आयोजन कर डा0 अशोक अग्रवाल को कोरोना योद्धा के रूप में ‘‘बृज रत्न’’ की उपाधि से सम्मानित कर पुष्प वर्षा की गई।
सम्मान समारोह में सारथी परिवार के अध्यक्ष रवि शर्मा, सचिव मफतलाल अग्रवाल, कोषाध्यक्ष उमेश चन्द गर्ग, चाणक्य युवा संगठन के संस्थापक आर्य असोक शर्मा, सर्व ब्राह्मण महासभा के जिला महासचिव प. कपिल देव शर्मा, शहीद भगत सिंह विचार मंच के संयोजक विवेक दत्त मथुरिया आदि ने डा0 अशोक अग्रवाल का पटका एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।
सम्मान समारोह में डा. अशोक अग्रवाल ने कहा कि अगर चिकित्सक गंभीर मरीजों का इलाज सूझबूझ एवं जिम्मेदारी से करें तो अनेक मरीजों की जिन्दगी को बचाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस एवं कानूनी प्रक्रियाओं को देखते हुए चिकित्सकों ने मरीजों का इलाज करने से हाथ खड़े कर दिये थे लेकिन मानवीय दृष्टिकोण से इसे उचित नहीं कहा जा सकता है। उन्होंने अपना फर्ज निभाते हुए 3 माह के बच्चे का उपचार कर उसकी जिन्दगी को बचाया। इस अवसर पर मासूम बच्चा घनश्याम एवं उसके पिता प्रदीप अग्रवाल, मां पूनम अग्रवाल भी उपस्थित थे जिन्होंने डाॅ0 अग्रवाल का आभार व्यक्त किया। जबकि सभी संस्थाओं के पदाधिकारियों ने भी डाॅ0 अग्रवाल को धन्यवाद दिया।
50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *